देवर रोज करता था विधवा भाभी के साथ शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश, और एक दिन…

0

बदायूं: उत्तर प्रदेश के बंदायू जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है जिसमें न सिर्फ रिश्ते दागदार हुए हैं बल्कि अमानवता की हदें भी पार होती दिखाई दी हैं। दरअसल यहां एक देवर ने मां की तरह पूजनीय भाभी को पहले अपनी हवस का शिकार बनाना चाहा, लेकिन जब भाभी ने खुद की अस्मत को बचाने के लिए उसका विरोध किया तो उसने अपनी भाभी को जिन्दा आग की लपटों में धकेल दिया।

मिली जानकारी के अनुसार, यह घटना बंदायू जिले के इस्लाम नगर के लाभारी की मढैया गांव की है, जहां एक 27 वर्ष की महिला अपने पति की मौत के बाद अपने ससुरालवालों के साथ रहती थी। बताया जा रहा है कि पति की मौत के बाद भी जिस परिवार को वो अपना परिवार समझ रही थी, उसी परिवार में एक ऐसा शख्स भी था जिसकी नजर इस विधवा की अस्मत पर थी।

दरअसल, महिला का देवर जिंतेंद्र की नियत अपनी भाभी को लेकर खराब थी और वो उन्हें अपनी हवस मिटाने का साधन बनाना चाह रहा था, अपनी इस इच्छा को पूरा करने के लिए वो आएदिन अपनी भाभी के साथ मारपीट करता था और शारीरिक संबंध बनाने के लिए जोर जबरदस्ती करता था।

ऐसी ही एक कोशिश उसने बीते बुधवार को भी की। लेकिन इस बार भी वो कामियाब नहीं हो पाया। इस बार भी उसकी भाभी ने उसका पुरजोर विरोध किया। हालांकि इस बार भाभी का विरोध करना उसे बिलकुल भी नागवार गुजरा और उसने भाभी पर मिट्टी का तेल छिड़ककर उसे आग के हवाले कर दिया। महिला की मौके पर ही बुरी तरह जलने की वजह से मौत हो गई। वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गया।

जानकारी मिलने के बार मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी देवर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है। पुलिस जिंतेंद्र की तलाश में जगह-जगह छापेमारी कर रही है।

loading...
शेयर करें

आपकी राय