बीजेपी ने नेताओं की ‘खरीद फरोख्त’ का मुद्दा उठाया, इस बड़ी पार्टी पर लगाया ये बड़ा आरोप  

0

मुंबई। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते हुए इसकी जांच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से कराने की मांग की है। इससे पहले रविवार को एमएनएस अध्यक्ष राज ठाकरे ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पर एमएनएस पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया था।

bjp

छह पार्षदों को पांच-पांच करोड़ में खरीदने का आरोप लगाया था

राज ठाकरे ने रविवार को अपनी प्रतिद्वंद्वी शिवसेना पर तीन दिन पहले बृहन्मुंबई नगर निगम के उसके सात में से छह पार्षदों को पांच-पांच करोड़ में खरीदने का आरोप लगाया था। भारतीय जनता पार्टी के मुंबई से सांसद किरीट सोमैया ने सोमवार को शिवसेना द्वारा एमएनएस के छह पार्षदों की ‘खरीद फरोख्त’ के संबंध में प्रवर्तन निदेशालय के संयुक्त निदेशक सत्यव्रत कुमार को इस मामले में ‘भ्रष्टाचार, धन-शोधन, लोकतंत्र विरोधी व अन्य अनियमितता पर कार्रवाई करने के लिए’ पत्र लिखा।

ईडी से कहा, हम जांच का आग्रह करते हैं

सोमैया ने ईडी से आग्रह करते हुए लिखा, हम जांच का आग्रह करते हैं। जांच पूरी होने तक सभी एमएनएस पार्षदों पर निगरानी रखी जाए और इनकी कार्रवाइयों पर रोक लगाई जाए। उन्होंने राज ठाकरे का हवाला देते हुए कहा कि यह शिवसेना द्वारा धनशोधन का मामला है और सभी छह एमएनएस पार्षदों में से प्रत्येक को पांच-पांच करोड़ रुपये में खरीदा गया है।

पटेल को धनशोधन मामले में कुछ दिन पहले ही गिरफ्तार किया गया था

सोमैया ने इस मामले में पुष्पक बुलियन के चंद्रकांत पटेल और शिवसेना व एमएनएस पार्षदों के बीच ‘हवाला लेन-देन’ की ओर भी इशारा किया। उन्होंने कहा कि पटेल को ईडी द्वारा धनशोधन मामले में कुछ दिन पहले ही गिरफ्तार किया गया था, जिसमें कथित रूप से पटेल, शिवसेना और उसके नेताओं के बीच ऐसे ही लेन-देन का पता चला था।

loading...
शेयर करें

आपकी राय