फिल्म रिव्यू: मस्ती के नाम पर बोर करती है फिल्म ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क’

0

 फिल्म का नाम: वेलकम टू न्यूयॉर्क

 स्टार कास्ट: दिलजीत दोसांझ, सोनाक्षी सिन्हा, करण जौहर, बमन ईरानी, राणा डग्गुबत्ती, रितेश देशमुख, सुशांत सिंह

 निर्देशक : चकरी टोलेटी

 रेटिंग : 02

 अवधि: 2 घंटा 03 मिनट  

फिल्म की कहानी-
बात करें फिल्म की कहानी की तो यह एक तरह की कॉमेडी फिल्म है। इस फिल्म की कहानी न्यूयॉर्क में होने वाले आईफा अवार्ड सेरेमनी से शुरु होती हैं। आईफा अवार्ड्स में पहुंचने के लिए लोगों को लिए एक कॉन्टेस्ट रखा जाता है। उस कॉन्टेस्ट में दो लोगों का सेलेक्शन होता है। जिसके बाद उन दोनों को आईफा अवार्ड तक पहुंचने का मौका मिलता है। वह दो कोई और नहीं बल्कि सोनाक्षी सिन्हा और दिलजीत दोसांझ होते हैं। दिलजीत दोसांझ यानि तेजी इस फिल्म में एक रिकवरी एजेंट का किरदार निभा रहे हैं। दिलजीत दोसांझ को एक्टिंग का बहुत ज्यादा शौक होता है। पूरी फिल्म के दौरान वह एक्टिंग करते नज़र आते हैं। वहीं बात करें सोनाक्षी सिन्हा यानि जीनल पटेल की तो वह एक फैशन डिजाइनर के रुप में नज़र आती हैं। कॉन्टेस्ट में सेलेक्शन के बाद दोनों न्यूयॉर्क के बड़े बॉलीवुड इवेंट जिसका नाम आईफा अवार्ड्स होता है उसका हिस्सा बनते हैं। उसी शो के दौरान दोनों की मुलाकात भी होती हैं। इस मुलाकात के बाद दोनों की जिन्दगी में अजीब सी उथल पुथल शुरु हो जाती है। फिल्म को देखकर कहा जा रहा है कि बॉलीवुड में होने वाले इतने बड़े शो के साथ करण जौहर का मजाक उड़ाया गया है।

इस फिल्म में रितेश देशमुख और दिलजीत दोसांझ का कॉमेडी रोल है, जो लोगों को हमेशा हंसाते रहते हैं। वहीं करण जौहर का डबल रोल दिखाया गया। कहा जा रहा है फिल्म में करण जौहर ने खुद का मज़ाक उड़ाया है। साथ ही तेजी यानि दिलजीत दोसांझ और जीनल यानि सोनाक्षी सिन्हा के बीच जो कॉमेडी का दृश्य बनाने की कोशिश की गई है वह तो आपको फिल्म देखने के बाद ही समझ आएगा।

निर्देशन-
फिल्म का निर्देशन कमाल का है। डायरेक्टर चकरी टोलेटी ने अच्छा डायरेक्शन दिया है। डायरेक्शन के साथ साथ उन्होंने प्रोड्क्शन वैल्यू का भी ध्यान रखा है। फिल्म में अवार्ड शो के पूरी तैयारी बिल्कुल रियल लगती है। देखकर लगता है कि करण जौहर पर खास ध्यान दिया गया है उनका किरदार करीब करीब रियल लाइफ जैसा ही है।

एक्टिंग और स्क्रिप्ट-
कहा जा रहा है फिल्म स्क्रिप्ट कमज़ोर थी। कई जगह पर ऐसा लगा कि जबरदस्ती हंसाने की कोशिश की गई है। एक्टिंग के बारे में कहें तो दिलजीत और सोनाक्षी की एक्टिंग लोगों को थोड़ी कमज़ोर लगी। फिल्म देखकर लोगों ने कहा कि ऐसा लग रहा था कि दोनों पर लोगों को हंसाने के लिए दबाव डाला गया है।

म्यूज़िक-
फिल्म के संगीत को भी लोगों ने कुछ खास नही बताया है।

देखें या नहीं-
फिल्म देखने के बाद तो यही कह सकते हैं कि अगर आप सोनाक्षी और दिलजीत के फैन हैं तो देख सकते हैं वरना इस फिल्म को देखने की फिलहाल अभी तक कोई खास वजह नहीं बताई जा रही है।

loading...
शेयर करें