फिल्म रिव्यू : अंत तक कुर्सी से बांधे रखेगी ‘इत्तेफाक’, सोनाक्षी और सिद्धार्थ पर भारी पड़े अक्षय

0

फिल्म का नाम: इत्तेफाक

डायरेक्टर: अभय चोपड़ा

स्टार कास्ट: सिद्धार्थ मल्होत्रा, सोनाक्षी सिन्हा, अक्षय खन्ना

रेटिंग: 3 स्टार

कहानी

मुंबई। फिल्म की कहानी विक्रम सेठी (सिद्धार्थ मल्होत्रा) से शुरु होती है जो एक राइटर होते हैं। विक्रम, यूके से मुंबई अपनी नॉवेल लॉन्च करने आता हैं लेकिन उन्हें इस बात की जरा भी भनक नहीं होती कि वो बहुत जल्द किस मुसीबत में फंसने वाले हैं। क्योंकि इसी दौरान उनकी वाइफ कैटरीन (किंबरली लूइसा मैकबेथ) की मौत हो जाती है। ट्विस्ट तब आता है जब माया (सोनाक्षी सिन्हा) के पति की भी उसी दिन मौत होती है जिस दिन कैटरीन की मौत हुई होती है, और इन दोनों की मौत नेचुरल नहीं होती किसी ने इनकी हत्या की होती है। इन दोनों मर्डर की तफ्तीश करने के लिए इंस्पेक्टर देव (अक्षय खन्ना) को लगाया जाता है। उधर विक्रम की गाड़ी खराब हो जाती है तो वो माया के पास मदद के लिए जाता है, इसी दौरान बहुत कुछ घटता है, जिसे विक्रम और माया दोनों अलग- अलग ढंग से बताते हैं। दोनों पर ही पुलिस को शक होता है। लेकिन क्या पुलिस कातिल तक पहुंच पाती है ये जानने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना पड़ेगा।

डायरेक्शन

फिल्म की कहानी 1969 में आई फिल्म ‘इत्तेफाक’ से काफी मिलती जुलती है। फिल्म का डायरेक्शन और कैमरा वर्क अच्छा है। लेकिन फिर भी कुछ कमी सी लगी। फिल्म में दिखाए गए सस्पेंस को और दिलचस्प किया जा सकता था। हालांकि अंत तक आप ये सोचते रहेंगे कि आखिर कातिल है कौन। फिल्म में एक भी गाना न होने की वजह से ये 2 घंटे से भी कम समय में खत्म हो जाती है।

एक्टिंग

सोनाक्षी सिन्हा और सिद्धार्थ मल्होत्रा ने अच्छी एक्टिंग की है। इससे पहले शायद ही दोनों ने इस तरह का रोल किया हो। हालांकि इससे और बेहतर किया जा सकता था, लेकिन अक्षय खन्ना ने जबरदस्त एक्टिंग की है। एक्टिंग के मामले में वो सोनाक्षी और सिद्धार्थ पर भारी पड़े हैं।

म्यूजिक

फिल्म में एक भी गाना नहीं है। इसका बैकग्राउंड म्यूजिक अच्छा है।

देखें या नहीं

सस्पेंस ध्रिलर फिल्म के शौकीन हैं तो एक बार जरूर देखने जाएं ‘इत्तेफाक’।

 

loading...
शेयर करें