जेल में हार्ट आटैक के बाद एसजीपीजीआइ में भर्ती हुए विधायक मुख्तार अंसारी और पत्नी

0

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी के बाहुबली विधायक और माफिया डॉन मुख्तार अंसारी को बांदा जेल में दिल का दौरा पड़ा है। इस दौरान उनसे मुलाकात करने आई उनकी पत्नी को भी हार्ट अटैक आ गया, जिसके बाद दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। उसके बाद उन्हें एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया है।

यह खबर सुनने के बाद करीब 500 समर्थक अस्पताल पहुँच गए। मुख्तार अंसारी के साथ उनकी पत्नी की स्थिति भी ख़राब है। जानकारी के मुताबिक, मंगलवार की सुबह उनकी पत्नी उनसे मिलने जेल आईं थी। उसी दौरान मुख्तार अंसारी को दिल का दौरा पड़ गया। अपने पति को इस हालात में देखते हुए उनकी पत्नी को सदमे से दिल का दौरा पड़ गया।

दोनों की ऐसी हालत देखते हुए जेल प्रशासन में हडकंप मच गया। आनन-फानन में उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां दोनों की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें लखनऊ रेफर किया गया है। डॉक्टर ने बताया कि मुख़्तार अंसारी को हाई ब्लड प्रेशर, सुगर और ब्रोंकाइटिस की शिकायत थी। बता दें मुख़्तार अंसारी मऊ सदर से विधायक हैं। वे इस समय बांदा जेल में बंद हैं।

कौन हैं मुख्तार अंसारी 

आपको बता दें कि मुख्तार अंसारी का पूर्वांचल में एक खास रुतवा था।  मुख्तार पांचवी बार मऊ से पांचवी बार विधायक बने हैं। अंसारी ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के एक उम्मीदवार के रूप में अपना पहला विधानसभा चुनाव जीता था। 1996 में अंसारी पहली बार विधायक बने। इसके बाद वो 2002 और 2007 में उन्होंने निर्दलीय रूप में चुनाव लड़ा और चुनाव जीता। । बाद में 2007 में ही वो फिर से बसपा में शामिल हो गये।  फिर वर्ष 2009 में फिर उन्होंने वाराणसी की सीट से चुनाव लड़ा लेकिन जीत न सके। मगर साल 2010 में आपराधिक गतिविधियों की वजह से बसपा ने अंसारी को पार्टी से निकाल दिया।

2012 में मऊ सीट से विधायक चुने गए। 2017 में बसपा के साथ कौमी एकता दल का विलय कर दिया गया और बसपा उम्मीदवार के रूप में अंसारी विधानसभा चुनाव में पांचवीं बार विधायक के रूप में जीते।

 

loading...
शेयर करें