होली में न पड़े कोई खलल, इसलिए मुस्लिम धर्मगुरुओं ने लिया ये बड़ा फैसला

0

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के मुस्लिम धर्मगुरुओं ने हिन्दू-मुस्लिम की एकता की मिशाल दुनियाके सामने पेश करने के लिए एक बड़ी पहल की है। मुस्लिम धर्मगुरुओं ने होली के नमाज का समय बदल दिया है। दरअसल शुक्रवार को होली पड़ रही है और इस दिन जुमे की नमाज भी होगी। होली के रंग में भंग न हो इसलिए मुस्लिम धर्मगुरुओं ने नमाज का समय बदल कर एक बजे कर दिया है।

मुस्लिम धर्मगुरुओं

वहीँ होली त्योहार शांति और सौहार्दपूर्ण तरीके से समपन्न हो इसके लिए प्रशासना भी पूरी निगरानी रख रहा है।इस्लामिक सेंटर ऑफ़ इंडिया के चेयरमैन मौलाना खालिद रशीद फिरंगीमहली ने इस बारे में जानकरी देते हुए बताया कि ऐशबाग स्थित ईदगाह में जुमे की नमाज दोपहर 1.45 बजे अदा की जाएगी।

वहीं, मौलाना कल्बे जव्वाद के मुताबिक बड़ा इमामबाड़ा स्थित असिफी मस्जिद में नमाज़ 1 बजे अदा की जाएगी। अगर सामान्य दिनों की बात की जाए तो ऐशबाग स्थित ईदगाह में जुमे की नमाज 12.45 पर अदा की जाती है जबकि असिफी मस्जिद में नमाज का वक्त 12.20 बजे है।

फिरंगीमहली ने कहा कि हिंदू-मुस्लिम भाईचारे का उदहारण एक बार फिर पेश करने का यह अच्छा अवसर है। दूसरी तरफ मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा कि हमारे देश की परंपरा है कि सब लोग हर त्योहार को मिलजुलकर मनाते हैं। ऐसे में होली खेलने वाले और जुमे की नमाज़ अदा करने वालों को कोई दिक्कत न हो, इसलिए जुमे की नमाज़ का वक्त बढ़ा दिया गया है।

वहीँ होली को लेकर प्रशासन भी मुस्तैद है। सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी तीन मार्च तक़ के लिए रद्द कर दी गयी है। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि जब भी कोई बड़ा त्योहार या अवसर हो उस वक्त शांति व्यवस्था कायम रहे यह हमारी जिम्मेदारी है। ईसिस वजह से अभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गयी है।

loading...
शेयर करें