नासा : वैज्ञानिकों की अंतरिक्ष पर साल की पहली चहलकदमी

0

वाशिंगटन। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी के दो अंतरिक्ष यात्रियों ने अंतरिक्ष में साल की पहली चहलकदमी की। अंतरिक्ष में स्पेसवॉक करते हुए उन्होंने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) के बाहर मौजूद रोबोटिक ‘भुजा’ को बदला। अंतरिक्ष यात्री स्कॉट टिंगल और मार्क वेंडे हेई ने अंतरिक्ष केंद्र के बाहर करीब 7 घंटे बिताए। दोनों अंतरिक्ष यात्रियों को कनाडार्म2 की दो भुजाओं में से एक को बदलने का काम सौंपा गया था।

स्पेस डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार, लैचिंग इंड इफेक्टर (एलईई) नामक इस उपकरण का इस्तेमाल यात्रा कर रहे मालवाहक अंतरिक्षयानों को पकड़ने एवं मुक्त करने में किया जाता है। इस साल का यह पहला स्पेसवॉक और इस महीने नासा की पूर्व नियोजित दो योजनाओं में से पहली है।

अंतरिक्ष में अपने करियर की पहली चहलकदमी करने वाले टिंगल ने कहा, यह मेरे लिए आजीवन यादगार रहने वाला है और मैं वहां पहुंचने तथा वहां काम करने को लेकर उत्सुक हूं। दोनों अंतरिक्ष यात्रियों को कनाडार्म2 की दो भुजाओं में से एक को बदलने का काम सौंपा गया था। कनाडार्म2 को लैचिंग इंड एफेक्टर्स (एलईई) के तौर पर जाना जाता है।

इससे पहले नासा ने दशकों से गायब एक उपग्रह के वापस मिलने का दावा किया था। नासा ने कहा था कि दशकों से गायब नासा का एक उपग्रह जिसे निष्क्रिय समझा जा रहा था वह सही एवं सक्रिय है। नासा के ‘इमेजर फॉर मैग्नेटोपॉज-टू-ऑरोरा ग्लोबल एक्सप्लोरेशन’ (इमेज) ने 20 जनवरी को मिले इस उपग्रह की पहचान की थी।

loading...
शेयर करें