भारत के पराग अग्रवाल ने संभाला ट्विटर के इस जिम्मेदार पद की कमान

0

नई दिल्ली। दिग्गज माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने  पराग अग्रवाल को अपना नया मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी (सीटीओ) नियुक्त किया है। इस बात की जानकारी कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर दी। आपको बताते चले कि पराग बतौर एड इंजीनियर ट्विटर में शामिल हुए थे। तब उन्हें विज्ञापन इंजीनियर की जिम्मेदारी दी गई थी। ट्विटर में आने से पहले वह माइक्रोसॉफ्ट रिसर्च, याहू रिसर्च और एटीएंडटी लैब्स से जुड़े रहे हैं।

पराग अग्रवाल एडम मेसिंगर की जगह लेंगे। मेसिंगर 2016 के अंत में कंपनी छोड़ चुके हैं। अग्रवाल आईआईटी बंबई के छात्र रहे हैं और उन्होंने स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस में पीएचडी की है। अग्रवाल ने साल 2011 में स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस में पीएचडी की थी। ट्विटर में आने से पहले पराग अग्रवाल ने एटीएंडटी, माइक्रोसॉफ्ट और याहू में रिसर्च इंटर्नशिप की थी।

पराग को पिछले दिनों प्रतिष्ठित सॉफ्टवेयर इंजीनियर का खिताब दिया गया था। इसके बाद उन्होंने एड सिस्टम बढ़ाने के प्रयासों की जिम्मेदारी उठाई। उन्होंने ऑनलाइन मशीन लर्निंग के लिए भी एक प्लेटफार्म तैयार किया। पराग ने बड़े पैमाने पर डाटा रिसर्च के क्षेत्र में काम किया है। वह माइक्रोसॉफ्ट रिसर्च, याहू रिसर्च और एटीएंडटी लैब्स जैसी दिग्गज कंपनियों से जुड़े रहे।

ट्विटर ज्वाइन करने से पहले उन्होंने एटी एंड टी, माइक्रोसॉफ्ट और याहू में रिसर्च इंटर्नशिप की हैं। ट्विटर में पराग के योगदानों में आर्टिफिशल इंटेलिजेंस के इस्तेमाल से ट्विटर यूजर्स की टाइमलाइंस में ट्वीट्स के औचित्य बढ़ाने के प्रयास भी शामिल हैं। ट्विटर आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की मदद से खुद के गलत इस्तेमाल को भी रोकता है।

 

 

loading...
शेयर करें