एनटीपीसी ने बनाया नया रिकार्ड, 52,000 मेगावाट से ज्यादा क्षमता वाली बनी कंपनी

0

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी बिजली उत्पादक कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड के 800 मेगावाट के कुडगी सुपर थर्मल पॉवर स्टेशन की तीसरी यूनिट का उत्पादन सोमवार से चालू हो गया। इस यूनिट के उत्पादन की शुरूआत होने के बाद से पॉवर स्टेशन की कुल क्षमता बढ़कर 2400 मेगावाट हो गई है। इससे एनटीपीसी और एनटीपीसी समूह की क्षमता में क्रमश: 45300 मेगावाट और 52191 मेगावाट का इजाफा हुआ है। जो कि अपने आप में एक बड़ा रिकार्ड है।

आपको बताते चले कि एनटीपीसी के पास फिलहाल 20 कोयला आधारित, 7 गैस आधारित, 11 सौर पीवी आधारित, दो पनबिजली, आठ सब्सिडरी/संयुक्त उद्यम पॉवर स्टेशन हैं। कंपनी देश में विभिन्न स्थानों पर 20,000 मेगावाट की अतिरिक्त क्षमता का निर्माण कर रही है। इतने पॉवर स्टेशन होने के बाद अब कंपनी अपने को और विकसित करने में अग्रसर है।

एनटीपीस अपनी कई यूनिटों पर काम भी कर रहा है। जानकारों का मानना है कि आने वाले समय में देश में बिजली को लेकर एनटीपीसी एक बहुत ही मुख्य भूमिका निभाएगी। गौरतलब है कि एनटीपीसी देश की महत्वपूर्ण ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और कंपनी ने वर्ष 2032 तक 130 गीगावाट की क्षमता हासिल करने की योजना बनाई है।

loading...
शेयर करें