तालीमी बेदारी में वार्षिक बैठक का आयोजन, कई मुद्दों पर हुई चर्चा

0

सग़ीर ए ख़ाकसार/वरिष्ठ पत्रकार

लखनऊ।  गोमतीनगर स्थित तालीमी बेदारी के केंद्रीय कार्यालय पर वार्षिक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में तालीमी बेदारी के अब तक के काम का लेख-जोखा प्रस्तुत किया गया। जिस पर प्रतिभागियों ने चर्चा की। बताया गया कि तालीमी बेदारी ने गत वर्ष में आर टी आई, आर टी ई और सरकारी योजनाओं जानकारी एवं आम जनता की पहुँच आदि विषय पर प्रशिक्षण कार्यक्रम कराने के साथ -साथ लोगों जागरूक बनाने के लिए डोर टू डोर कैंपेन से लेकर प्रतिभा सम्मान समारोह और बच्चों के बीच क्विज़ कॉम्पटीशन वगैरह कराया है।

प्रभात जी ने ऑनलाइन सरकारी सेवाओं की दी जानकरी

आज के कार्यक्रम में विशेष रूप से प्रभात जी ने ऑनलाइन सरकारी सेवाओं के बारे में प्रतिभागियों को बताया। उन्होंने कौशल विकास, जन सेवा केंद्र  और लोकवाणी के लाभ बताये।

जनाब शकील अहमद ने सरकारी योजनाओं का ज़िक्र करते हुए बताया कि लोगों को शैक्षिक रूप से बेदार किये बिना समाज के ग़रीब और कमज़ोर तबकों को मुख्य धारा में शामिल नहीं किया जा सकता है।

इस अवसर पर शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए इलाहाबाद के डॉ आरिज़ क़ादरी, पखनपुरा के एड्वोकेट नौशाद सिद्दीकी , बहराइच के वसीम खान, बलरामपुर के सगीर खाकसार को ए पी जे अब्दुल कलाम अवार्ड से सम्मानित किया गया। इसके अलावा कानपुर के रहने वाले महबूब मालिक को पाशा अवार्ड से सम्मानित किया गया।

अपने हाथों इन लोगों को सम्मान प्रतीक प्रदान करते हुए इलाहबाद विश्वविद्यालय के भूतपूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष श्री लाल बहादुर सिंह ने कहा कि शिक्षा के लिए यह समय बहुत ही कठिन है। इस कठिन समय में तालीमी बेदारी की कोशिशें सराहनीय हैं।

प्रशिक्षण कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पत्रकार सग़ीर ए खाकसार ने किया।तालीमी बेदारी के अध्यक्ष  डॉक्टर वसीम अख़्तर ने सभी सदस्यों और प्रतिभागियों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

loading...
शेयर करें