अब UPSC की तर्ज पर होगी पीसीएस की मुख्य परीक्षा

0

इलाहबाद। संघ लोक सेवा आयोग ने एक बड़ा फैसला लेते हुए उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (पीसीएस) मुख्य परीक्षा का प्रारूप बदलने की योजना बनाई है। इसके मुताबिक, एग्जाम में बदलाव के लिए इसी महीने के अंत तक आयोग फैसला कर लेगा। इसके बाद इस नए प्रस्ताव को आखिरी मंजूरी के लिए शासन को भेजा जायेगा। आपको बता दें कि इस प्रस्ताव पर काफी समय पहले से चर्चा चल रही है। अब इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद लागू किया जायेगा।

यह भी पढ़ें, पीएम मोदी के स्‍वच्‍छता अभियान में इस स्‍कूल ने मारी बाजी,…

UPSC

आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि इस महीने के आखिरी तक पीसीएस मुख्य परीक्षा के प्रारूप में बदलाव पर सहमती बन जाएगी। इसके बाद अगले साल 2018 तक इस प्रस्ताव को लागू कर दिया जायेगा। इतना ही नहीं आयोग मुख्य परीक्षा को संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा की तर्ज पर कराना चाहता है। इसके लिए उसने सिलेबस को भी तैयार कर लिया है।

इतना ही नहीं इस नए प्रस्ताव के अनुसार पीसीएस मुख्य परीक्षा में सामान्य अध्ययन के चार पेपर शामिल किये जाएंगे। ये चारों पेपर लिखित में हों। साथ ही दो वैकल्पिक विषयों की बजाय एक विकल्प की व्यवस्था लागू की जाएगी, जबकि 150-150 नंबर के सामान्य हिंदी एवं निबंध के पेपर को पहले की तरह बरकरार रखा जाएगा।

इसके अलावा नए प्रस्ताव के मुताबिक, सामान्य अध्ययन के सारे पेपर 200-200 नंबर के यानी की पूरे 800 नंबर का होगा। हालांकि अभी तक सामान्य अध्ययन का एग्जाम दो पेपर में यानी 400 नंबर पर कराया जाता है।

loading...
शेयर करें

आपकी राय