पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘ऑल वेदर रोड’ के रास्ते में कांग्रेस ने अड़ाई टांग

0

देहरादून। उत्तराखंड के लिए पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट ऑल वेदर रोड के रास्त में कांग्रेस ने अपनी टांग अड़ा दी है। चारधाम की यात्रा को सुगम बनाने के लिए इस 11700 करोड़े रुपए की लागत वाली परियोजना पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस ने इस प्रोजेक्ट में घोटाला होने की संभावना जताने के साथ-साथ इससे पर्यावरण को नुकसान पहुंचने की बात भी कही है।

कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट ने दिया मामले पर बयान

बीते रविवार मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि सड़क के लिए अधिग्रहित जमीन का मुआवजा देने की प्रक्रिया काफी संदेाहस्पद है। लोगों से शपथ पत्रों पर जबरन हस्ताक्षर कराए जाने की शिकायतें मिली हैं। बाहरी ठेकेदारों का काम दिए जाने से घोटाले की आशंका को बल मिलता है। यह एक बड़े घोटाले की ओर इशारा कर रहा है।

उन्होंने पर्यावरण के लिहाज से चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि पूरा उत्तराखंड राज्य भूकंप के लिहाज से बेहद संवेदनशील जोन चार और पांच में स्थित है। कई क्षेत्र भूस्खलन के लिहाज से संवेदनशील हैँ। यहां पहाड़ों को काट कर सड़कों को चौड़ा करने से स्थानीय पर्यावरण असंतुलित हो सकता है।

इसी प्रकार मलबे का निस्तारण ठीक से न होने की वजह से स्थानीय लोगों की कृषि भूमि प्रभावित हो रही है। वहीं राज्य में काटे जा रहे हजारों पेड़ों की जगह दूसरे राज्यों में वनीकरण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर जनता के बीच जाएगी।

जानिए क्या है ऑल वेदर प्रोजेक्ट

लगभग 900 किमी लंबी इस परियोजना की लागत 11700 करोड़ रुपए है। इस परियोजना के तहत 25 पुल, 13 बाइपास, तीन फ्लाईओवर व दो सुरंगों का निर्माण किया जाएगा। डबल लेन की इस सड़क पर तीर्थ यात्रियों के लिए 28 सुविधा केंद्र बनाए जाएंगे। इस राजमार्ग पर 154 बस वे व ट्रक वे का निर्माण होगा। राजमार्ग पर 38 जगह लैंड स्लाइड जोन बनाए जाएंगे।

loading...
शेयर करें