रिसर्च : अगर दिमाग को बनाना है तेज जरुर लें दोपहर की नींद

0

लखनऊ। एक नए रिसर्च में पता चला है कि दोपहर में एक छोटी सी झपकी लेने से बुजुर्गों की स्मरण शक्ति, सोचने और निर्णय लेने की क्षमता बेहतर हो सकती है। यह रिसर्च ने 65 वर्ष और उससे अधिक आयु के 3,000 चीनी नागरिकों द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचनाओं का विश्लेषण कर किया गया।

रिसर्च

ब्रिटेन के जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं के इस अध्ययन के जरिये ये पता लगाने की कोशिश की कि नीद लेने से उनके मानसिक स्वास्थ्य पर कोई प्रभाव पड़ता है या नहीं। इस विश्लेषण के दौरान करीब 60 प्रतिशत लोगों ने कहा कि दोपहर के भोजन के बाद वे 30 मिनट से लेकर 90 मिनट से अधिक की झपकी लेते है।

इसमें शामिल लोगों से सवाल-जवाब करने के बाद यह निषकर्ष निकला कि खाना खाने के बाद करीब एक घंटे की झपकी लेने वालों का प्रदर्शन मानसिक जांच में ऐसे लोगों से बेहतर रहा, जो झपकी नहीं लेते हैं।

इसके अलावा निम्न टिप्स भी आपकी स्मरण शक्ति बढ़ाने में मदद कर सकते हैं   

बादाम और ड्राई फ्रूट तो दिमाग तेज करने और याददाश्त बढाने में कारगर भूमिका निभाते हैं। इसके अलावा भी कई ऐसे फ़ूड हैं जो अपने दीमाग के लिए बेहतर साबित हो सकते हैं।

हरी फूलगोभी यानी ब्रोकली का सेवन करने से दिमाग तेज होता है।

अन्य चीजें- हरी पत्तेदार सब्जियां, बींस, साबुत अनाज, मछली, जैतून का तेल और एक गिलास वाइन अल्जाइमर रोग से लड़ने में मदद करती हैं।

दिमाग तेज करने के लिए एंटीऑक्सिडेंट्स से भरपूर स्ट्रॉबेरी और ब्लूबेरी खाएं। विटामिन ई से भरपूर स्ट्रॉबेरी और ब्लूबेरी खाने से तनाव भी काम होता है और मानसिक रोगों से निजात मिलती है।

loading...
शेयर करें