क्या सच में है एलियन का वजूद? शोधकर्ता बैरी डिग्रेगोरियो का दावा, Aliens के सबूत छिपा रहा है नासा

0

वॉशिंगटन। दूसरे ग्रहों पर जीवन का अस्तित्व हमेशा से वैज्ञानिकों के लिए रहस्य रहा है। इसको लेकर चर्चाएं और विवाद भी होता रहा है। कॉन्सपिरेसी थ्योरिस्ट्स ने लंबे समय के बाद एक बार फिर से नासा पर आरोप लगाते हुए कहा कि सत्ता में रहने वाले लोग एलियन के अस्तित्व को लोगों से छिपा रहे हैं।

एलियन हंटर्स को फिर से इस मामले में जिरह करने के लिए एक वैज्ञानिक ने मसाला दे दिया है। उसने आरोप लगाया है कि अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा मंगल ग्रह पर एलियन लाइफ के प्रमाण को छिपा रही है। एजेंसी के स्पेस एक्सप्लोरर ने मंगल ग्रह की कुछ तस्वीरें ली हैं, जिसमें सॉफ्ट बॉडी लाइफ फॉर्म के अवशेष दिख रहे हैं।

शोधकर्ता बैरी डिग्रेगोरियो ने दावा है कि वह अपनी रिपोर्ट से नासा के गुप्त बातों को दुनिया के सामने ला देगा। बैरी का कहना है कि इस खोज को नजरअंदाज कर दिया गया है क्योंकि एजेंसी की योजना साल 2030 तक मंगल ग्रह में एक मानव मिशन को भेजने की है।

इस बीच नासा ने चित्रों में दिख रही आकृतियों को रॉक क्रिस्टल करार दिया है। धरती की मिट्टी में सूक्ष्म जीवन का अध्ययन करने में बैरी माहिर हैं। उनका कहना है कि क्यूरिओसिटी रोवर से ली गई तस्वीरों में जो पैटर्न दिख रहा है वह पृथ्वी पर खींचे गए ऑर्डोवाशियन ट्रेस जीवाश्म की तरह के हैं।

loading...
शेयर करें