स्कूल ने की मांग, बच्चों के हिजाब और रोजा रखने पर लगे रोक

0

लंदन। ब्रिटेन के सरकारी फंड वाले स्कूल में बच्चों के हिजाब पहनने और रमजान के दौरान रोज़ा रखने पर रोक लगाने की मांग की है। ये स्कूल सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल है, इसकी फंडिग ब्रिटेन सरकार करती है। बता दें ये ब्रिटेन के जाने माने स्कूलों में से एक है। स्कूल में ज्यादातर भारत, बांग्लादेश और पाकिस्तान के ब्रटिश नागरिकों के बच्चे पढ़ते हैं।

बताया जा रहा है पूर्वी लंदन के न्यूहैम स्थित सेंट स्टीफेंस स्कूल देश में ऐसा पहला स्कूल था जिसने साल 2016 में आठ साल तक की लड़कियों के हिजाब पहनने पर रोक लगा दी थी। इतना ही नहीं, स्कूल सितंबर 2018 से इसे 11 साल तक की लड़कियों के लिये रोक लगाने की मांग कर रहा है।

रमज़ान पर रोज़ा रखने पर भी रोक

यहां तक की रमजान के दौरान स्कूलों में रोजा रखने पर भी कड़ा नियम लागू किया है। छुट्टी के दौरान ही बच्चे रोजा रख सकते हैं। जानकारी के मुताबिक इस स्कूल में ज्यादातर छात्र भारतीय, पाकिस्तानी या बांग्लादेशी मूल के हैं और इसका नेतृत्व भारतीय मूल की प्रधानाध्यापिका नीना लाल करती हैं। स्कूल चाहता है माता पिता की विरोधात्मक प्रतिक्रिया को रोकने के लिये सरकार स्पष्ट दिशानिर्देश जारी करे।

loading...
शेयर करें