साइंटिस्टों का दावा, शुक्र के बादलों पर है एलियंस का ठिकाना

0

वाशिंगटन। दुनिया भर के वैज्ञानिक एलियंस या यूएफओ के बारे में रिसर्च करते रहते हैं। क्योंकि इसके बाद ब्रहमांड से संबंधित कई राज खोलने में मदद मिल सकती है। हर बार एलियंस के वजूद का दावा किया जाता है वैसे ही एक बार फिर वैज्ञानिकों ने पृथ्वी के पड़ोसी ग्रह शुक्र पर एलियन के होने का दावा किया है।

alians 2

वैज्ञानिकों ने तर्क देते हुए कहा कि शुक्र ग्रह पर करीब दो अरब साल पहले पानी तरल रूप में मौजूद था। विज्ञानिकों ने अनुमान लगते हुए बताया कि शुक्र पर सूक्ष्म जीवों की पूरी प्रजाति विकसित हो चुकी होगी।

कैलिफोर्निया स्टेट पॉलीटेक्निक यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर राकेश मोगुल के अनुसार शुक्र के बादलों पर सल्फ्यूरिक एसिड और प्रकाश सोखने वाले कणों से बने काले धब्बे भी मिले हैं। प्रकाश सोखने वाले बैक्टीरिया धरती पर भी पाए जाते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है, ये सूक्ष्म जीव शैवाल की तरह के भी हो सकते हैं।

पुराने रिसर्च से भी इस बात का खुलासा हुआ है कि अम्लीय वातावरण में जीवन संभव हो सकता है। विज्ञानिकों के अनुसार अम्लीय वातावरण में विकसित होने वाले जीव जीवन वायु के रूप में कार्बन डाईऑक्साइड के सहारे जिन्दा रहते है और सांस छोड़ने की प्रक्रिया में वे सल्फ्यूरिक एसिड को रिलीज़ करते हैं। शुक्र के बादलों में कार्बन डाईऑक्साइड के साथ सल्फ्यूरिक एसिड पानी की बूंद के रूप में पाए गए है।

विज्ञानिकों के मुताबिक शुक्र ग्रह से जुड़े और रहस्यमयी जानकारी के लिए बादलों के नमूनों की जरूरत होगी।

loading...
शेयर करें