श्रीनगर : 32 घंटे बाद खत्म हुई मुठभेड़, सेना ने लश्कर-ए-तैयबा के दोनों आतंकियों को मार गिराया

0

श्रीनगर। सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच चल रही मुठभेड़ खत्म हो गई है। जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में सीआरपीएफ के शिविर पर हमले की नाकाम कोशिश के बाद निर्माणाधीन इमारत में छुपे आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को सुरक्षा बलों ने मार गिराया है। सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच यहां लगभग 32 घंटे से मुठभेड़ चल रही थी।

आतंकवादी को निर्माणाधीन इमारत में ही मार डाला गया

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, लश्कर-ए-तैयबा के एक आतंकवादी को निर्माणाधीन इमारत से निकल कर पास के इमारत में घुसने की कोशिश के दौरान मार गिराया गया, जबकि एक अन्य आतंकवादी को निर्माणाधीन इमारत में ही मार डाला गया। दोनों आतंकवादी सोमवार को इसी इमारत में छुप गए थे। आतंकवादियों की वास्तविक पहचान का पता लगाया जा रहा है।

सीआरपीएफ जवान शहीद

सोमवार की सुबह आतंकवादियों ने श्रीनगर के करन नगर स्थित सीआरपीएफ के एक कैंप पर हमला कर दिया। आतंकवादियों ने कैंप पर ग्रेनेड फेंके और फायरिंग की। इस फायरिंग में सेना का एक जवान घायल हो गया। घायल जवान को सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई।

पुलिस ने कहा कि इलाके में तलाशी अभियान अभी जारी है। लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी करण नगर क्षेत्र के इमारत में एक दिन पहले उस समय छिप गए थे जब सीआरपीएफ की 23वीं बटालियन के एक चौकन्ने सिपाही ने इनकी संदिग्ध गतिविधियों की पहचान कर इन पर फायरिंग की और शिविर पर संभावित आतंकवादी हमले को टाल दिया।

सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों को आगे बढ़ने से रोक दिया

सुरक्षा बलों ने एके-47 राइफल लिए आतंकवादियों को आगे बढ़ने से रोक दिया और ये लोग एक इमारत में छुप गए, जहां से आतंकियों ने सुरक्षा बलों के साथ गोलीबारी की। दोनों तरफ से गोलीबारी के दौरान, सोमवार को एक सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया और कश्मीर पुलिस के (एसओजी) का एक कांस्टेबल घायल हो गया।

जम्मू में छिपे संदिग्ध आतंकियों के सफाये का अभियान चला रही है

गौरतलब है कि 10 फरवरी को भारी हथियारों से लैस जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी ग्रेनेड फेंकते हुए और स्वचालित हथियारों से गोलीबारी करते हुए सुंजवान स्थित सैन्य शिविर में घुस आए थे। पाकिस्तानी मूल के तीनों आतंकवादी जूनियर कमिशन्ड ऑफिसर के आवासीय क्वार्टर में प्रवेश करने में कामयाब रहे थे, जिन्हें बाद में सुरक्षा बलों ने मार गिराया।

loading...
शेयर करें