बिहार: सुशील मोदी ने किया आम बजट का स्वागत, तेजस्वी यादव ने बताया छलावा

0

पटना| केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा गुरुवार को लोकसभा में पेश किया गया बजट बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी (सुमो) को ख़ासा पसंद आया है, जबकि राजद नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री ने इस बजट को लेकर नाराजगी जाहिर की है। सुमो ने स्वागत किया है। उन्होंने बजट को कल्याणकारी बताया है। वहीं, तेजस्वी यादव ने इसे किसानों के लिए छलावा करार दिया।

बिहार के उपमुख्यमंत्री ने इस बजट का स्वागत करते हुए कहा कि 50 करोड़ गरीब लोगों को पांच लाख रुपये तक मेडिकल सुविधा देने की घोषणा, आजादी के बाद स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत बड़ा फैसला है।

मोदी ने कहा कि इस बजट में नौकरी पेशा लोगों, किसानों, महिलाओं, वरिष्ठ नागरिकों सभी को लाभ दिया गया है। मोदी ने कहा कि इस बजट में सभी फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य को बढ़ाकर उत्पादन मूल्य का 1।5 गुना किए जाने की घोषणा की गई है, जो किसानों के हित में लिया गया बड़ा फैसला है।

इधर, पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने इस बजट को निराशाजनक करार दिया।  उन्होंने ट्वीट कर नीतीश कुमार से सवाल करते हुए लिखा कि बजट में बिहार के लिए कुछ भी नहीं है। बिहार को विशेष पैकेज और विशेष राज्य के दर्जे पर कुछ भी नहीं मिला। नीतीश कुमार बताएं क्या यही उनके लिए डबल इंजन है? नीतीश जी की वजह से भाजपा की केंद्र सरकार बिहार के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है।

तेजस्वी ने बजट को किसानों के साथ छलावा बताते हुए एक अन्य ट्वीट में लिखा कि बजट किसानों के साथ छलावा है। गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1600 रुपये प्रति क्विंटल है, लेकिन बाजार में उस मूल्य पर कोई गेहूं खरीदने वाला नहीं है। मजबूरन किसान को 1300 रुपये में गेहूं बेचना पड़ता है। किस डेढ़ गुणा एमएसपी की बात हो रही है? वातानुकूलित कैबिनों में बैठकर किसानों का भाग्य मत लिखिए।”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि किसानों की खेती की चिंता छोड़ मोदी सरकार वोटों की खेती में लीन है।बीजेपी देश से किसानों को समाप्त करना चाहती है। पूँजीपतियों का NPA 10 लाख करोड़ है लेकिन पूँजीपतियों की रखवाली मोदी सरकार 80 करोड़ किसानों का कुछ हज़ार करोड़ रुपए क़र्ज़ माफ़ नहीं कर सकती।

loading...
शेयर करें