अभी-अभी : मोदी के लिए आई साल की सबसे बुरी खबर – बीजेपी के उड़े होश, खुशी से झूम उठे राहुल  

0

नई दिल्ली। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले ही मोदी सरकार को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। पहले महाराष्‍ट्र में एनडीए के सहयोगी शिवसेना के 2019 चुनाव गठबंधन से अलग होकर लड़ने की बात कह चुकी है। वहीं, एक बार फिर पीएम मोदी के लिए बुरी खबर आ रही है। एनडीए की सहयोगी पार्टी तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) और सरकार के बीच तकरार बढ़ती जा रही है। टीडीपी लगातार सरकार से आंध्र प्रदेश के लिए विशेष दर्जा देने की मांग कर रही है, वहीं मोदी सरकार टीडीपी की इस मांग को मानने के लिए तैयार नहीं है। जिसके बाद खबर आ रही है कि टीडीपी एनडीए से अलग हो सकती है।

यह भी पढ़ें : सिर्फ 2 सीटों पर जीतने वाली बीजेपी ने मेघालय में बनाई NDA की सरकार, मुंह देखती रह गई कांग्रेस

एनडीए की सहयोगी पार्टी तेलुगु देशम पार्टी

पार्टी ने अपने मंत्रियों को इस्तीफा के लिए तैयार रहने को कहा है

पार्टी ने अपने मंत्रियों को इस्तीफा के लिए तैयार रहने को कहा है। मोदी सरकार के दो कैबिनेट मंत्री अशोक गजपति राजू और वाई एस चौधरी इस्तीफा दे सकते हैं। मंगलवार को टी़डीपी के विधायकों और एमएलसी ने बैठक की थी। बैठक में फैसला लिया गया कि अगर केंद्र उनकी शर्तें नहीं मानती है तो वह एनडीए गठबंधन का हिस्सा नहीं रहेंगे।

यह भी पढ़ें : त्रि‍पुरा में सरकार बनाते ही बुरी तरह फंस गई बीजेपी, मोदी-शाह के उड़े होश

टीडीपी ने एनडीए गठबंधन से अलग होने की मांग की

इस बैठक में पार्टी नेताओं ने मांग न मानने पर एनडीए गठबंधन से अलग होने की मांग की। इस बैठक में 125 विधायक और 34 एमएलसी शामिल हुए। इसके चलते आंध्र प्रदेश के सीएम सीएम चंद्र बाबू नायडू एनडीए से अलग होने का फैसला ले सकते हैं। वहीं, मुख्यमंत्री एन.चन्द्रबाबू नायडू ने केंद्र द्वारा आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनिमय 2014 के प्रावधानों को पूरा करने के संबंध में राज्य विधानसभा में भाजपा नेताओं की दलीलों पर नारागजी व्यक्त की और कहा कि टीडीपी केन्द्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार की सहयोगी है, इसीलिए वह स्वयं को रोक रहे है।

राहुल गांधी ने मारा मौके पर चौका

मंगलवार को टीडीपी नेताओं ने सरकार के खिलाफ दिल्ली के जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन किया था। इस प्रदर्शन में राहुल गांधी भी शामिल हुए थे। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा था कि अगर कांग्रेस सरकार 2019 में सत्ता में आती है तो वह आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देगी। राहुल ने कहा कि आंध्र प्रदेश की जनता की भलाई के लिए मोदी सरकार को आंध्र प्रदेश राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देना चाहिए।

loading...
शेयर करें