अब तक का सबसे बड़ा हादसा, चार मंजिला होटल ढ़हने से 10 की मौत, राहत कार्य जारी

0

इंदौर। बीती रात मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में यहां के इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा हादसा हुआ। शनिवार रात सरवटे बस स्टैंड के पास स्थित एमएस नाम का होटल ताश के पत्तों की तरह बिखर गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मात्र 20 सेंकेंड में यह चार मंजिला होटल ढ़ह गया। अचानक हुए इस हादसे में अब तक 10 लोगों की मौंत हो चुकी है। जबकि 5 व्यक्ति गंभीर रुप से घायल बताए जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार राहत एवं बचाव कार्य अभी भी जारी है। मलबे में कई और लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है।

इस वजह से ढ़ह गया होटल
सूत्रों के मुताबिक होटल के आस-पास रहने वालों लोगों के अनुसार होटल की यह बिल्डिंग करीब 80 साल पुरानी है। इसको लेकर उन लोगों ने कई बार इसके मालिक को सचेत भी किया। इसके बावजूद होटल मालिक ने इसके ऊपर दो मंजिलों का निर्माण और करा लिया। इसके अलावा होटल के बेसमेंट में पानी भरने से इसकी नींव भी कमजोर हो गईं थी। यही नहीं नगर निगम द्वारा इस होटल को पहले से ही जर्जर घोषित किया जा चुका था। लेकिन इसे न तो गिराया गया और न ही इस पर कोई त्वरित कार्रवाई की गई।

होटल मालिक शंकर परवानी का फिलहाल कोई पता नहीं चल पा रहा है। उनके नंबर पर फोन करने पर कोई जवाब नहीं आ रहा है। पुलिस होटल मालिक के खिलाफ जानलेवा लापरवाही का मामला दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

वहीं हादसे से बाद से अब तक 10 मृतकों में से 5 की पहचान हो चुकी है, जबकि 5 अन्य की अब भी शिनाख्त नहीं हो सकी है। एमवाय अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक हादसे में सत्यनारायण पिता रामानंद (60), होटल का मैनेजर हरीश सोनी (70), राजू पिता रतनलाल (36), आनंद पोरवाल (निवासी नागदा) और राकेश राठौर (निवासी नंदबाग) की शिनाख्त हो चुकी है। जबकि 3 पुरूष और 2 महिलाओं की पहचान नहीं हो सकी है।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घटना के वक्त होटल में कई मुसाफिर अंदर थे। गिरती होटल के मलबे की चपेट में आसपास से गुजर रहे लोग भी आ गए।

loading...
शेयर करें