यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन ही सीएम योगी के गढ़ में सामूहिक नक़ल, FIR दर्ज

0

गोरखपुर : यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं मंगलवार को शुरू हो गई। इस बार परीक्षा को नक़ल विहीन बनाने के लिए सरकार ने काफी तैयारी की है लेकिन नकल माफिया सरकार की कोशिशों पर पानी फेर रहे हैं। यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद में ही सामूहिक नकल का मामला सामने आया।

यूपी बोर्ड

डीआईओएस ज्ञानेंद्र भदौरिया ने बेलीपार के ग्राम स्थलिय बालिका इंटर कॉलेज में हाईस्कूल की गृहविज्ञान की परीक्षा के दौरान सामूहिक नकल को पकड़ा। परीक्षा के दौरान डीआईओएस भदौरिया उड़न दस्ते के साथ निरिक्षण के लिए पहुंचे थे। दौरान पाया कि बच्चों की अधिकतर कापियां एक दूसरे से मिल रही हैं। यही नहीं कक्ष निरीक्षक भी उसी विषय का टीचर था जिस विषय का पेपर हो रहा था। फिलहाल डीआईओएस ने बेलीपार थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

आपको बता दें कि इस बार यूपी बोर्ड परीक्षा में हाईस्कूल व इंटर के 66 लाख 37 हजार 18 परीक्षार्थी शामिल होंगे। हाईस्कूल की परीक्षा में 36,55,691 व इंटरमीडिएट की परीक्षा में 29,81,387 परीक्षार्थी सम्मिलित हो रहे हैं। हाईस्कूल की परीक्षा 6 से 22 फरवरी तक होगी। इंटर की परीक्षाएं 6 से से शुरू होने के बाद 12 मार्च चक चलेंगी।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने पत्रकारों को बताया कि बोर्ड परीक्षा को लेकर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस बार 8549 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।  बोर्ड की सचिव दावा है कि सभी परीक्षा केंद्रों पर प्रश्नपत्र और उत्तर पुस्तिकाएं पहुंचा दी गई हैं। सभी 75 जिलों में बोर्ड परीक्षा कराए जाने को लेकर कुल 8549 परीक्षा केंद्र हैं। बोर्ड की परीक्षा संपन्न कराने को तीन लाख से ज्यादा कक्ष निरीक्षक, 500 से ज्यादा फ्लाइंग स्क्वायड की तैनाती की गई है।

गौरतलब है कि इस बार अक्टूबर में ही यूपी बोर्ड परीक्षा का कार्यक्रम घोषित कर दिया गया था। इसके बाद परीक्षा केंद्र निर्धारण तथा प्रश्नपत्र व उत्तर पुस्तिका का काम कराया गया। परीक्षा केंद्रों का निर्धारण इस बार ऑनलाइन किया गया है। सरकार ने हर केंद्र पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की भी पहल की है।

75 जिलों में 8549 परीक्षा केंद्र

इस बार प्रदेश के सभी 75 जिलों में बोर्ड परीक्षा कराये जाने को लेकर कुल 8549 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। एक अनुमान के मुताबिक परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए 3 लाख से ज्यादा कक्ष निरीक्षक, 500 से ज्यादा फ्लाइंग स्क्वॉयड तैनात किये गए हैं । बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव का दावा है कि परीक्षा को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं और सभी परीक्षा केन्द्रों पर कापियां और पेपर भी पहुंचा दिए गए हैं।

loading...
शेयर करें