ट्रंप ने मारा यू-टर्न, बोले – पेरिस जलवायु समझौते में वापसी कर सकता है अमेरिका

0

वाशिंगटन। पेरिस जलवायु समझौते से पिछले साल अमेरिका ने अपना नाम वापस लेते हुए बड़ा झटका दिया था। लेकिन अब एक बार फिर वापसी के संकेत दिखाई दे रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बीते दिनों बुधवार को कहा है कि उनका देश फिर एक बार पेरिस जलवायु समझौते में शामिल हो सकता है।

यह भी पढ़ें, चीनी स्पेस लैब पर वैज्ञानिकों ने खोया नियंत्रण, धरती से टकराया तो होगा महाविनाश

डोनाल्ड ट्रंप

बता दें, बुधवार को नॉर्वे में वहां की प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग के साथ संवाददाता सम्मेलन के दौरान ट्रंप ने कहा,  “हम दोबारा इस समझौते में शामिल हो सकते हैं।” हालांकि, ट्रंप ने कहा कि पेरिस समझौता एक खराब समझौता है और यह अमेरिका के लिए अनुचित है। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने 2015 में पेरिस समझौते पर हस्ताक्षर किए थे, जिसका उद्देश्य बढ़ रहे वैश्विक तापमान को दो डिग्री सेल्सियस से नीचे बनाए रखना है।

ट्रंप ने कहा, “पेरिस समझौते से हमारी प्रतिस्पर्धी धार कम हो जाएगी और हम यह होने नहीं देंगे। मैं ऐसा होने नहीं दूंगा।” ट्रंप के इन शब्दों से हालांकि पता चलता है कि अमेरिका पेरिस समझौते को लेकर एक साल पहले के अपने रुख पर कायम है।

आपको बता दें कि इससे पहले अमेरिका ने खुद को ऐतिहासिक पेरिस जलवायु समझौते से अलग कर लिया था। इसके पीछे की वजह भारत और चीन के लिए सख्त प्रावधान न किया जाना था। जबकि खुद प्रदूषण रोकने के लिए यह दोनों देश अपना कोई योगदान नहीं कर रहे थे। ऐसे में ग्लोबल वार्मिंग से निपटने की अंतरराष्ट्रीय कोशिशों से अमेरिका अलग हो गया।

loading...
शेयर करें