उत्तराखंड के लाल ने गूगल में गलती पकड़कर रोशन किया राज्य का नाम

0

हल्द्वानी। मूल रूप से पिथौरागढ़ जिले के मिर्थी में रहने वाले साइबर एक्सपर्ट विकास सिंह बिष्ट ने उत्तराखंड का नाम रोशन कर दिया। विकास रहने वाले मिर्थी के हैं लेकिन वो काम हल्द्वानी में करते हैं। विकास ने गूगल की एक वेबसाइट में खामी ढूंढते हुए विश्व में आइटी क्षेत्र में पहचान बनाने वालों में देश और अपने राज्य का नाम रोशन किया।

बताते चलें, गूगल की सिक्योरिटी टीम ने गलती स्वीकारते हुए उसमें सुधार किया है। इसके अलावा गूगल में गलती ढूंढने वाले दुनिया के 980 आइटी एक्सपर्ट में 322वीं रैंक हासिल करने वाले विकास को गूगल ने वलनरेबिलिटी रिवार्ड प्रोग्राम के तहत हॉल ऑफ फेम में विकास की प्रोफाइल डालकर प्रोत्साहित भी किया है। इसके साथ ही 100 डालर प्रोत्साहन राशि देने की मेल भी विकास को मिली है।

आपको बता दें, विकास ने नवंबर को गूगल के कैगिल डॉट कॉम नाम की वेबसाइट पर क्रापसाइट स्क्रिप्टिंग की गलती पकड़ी थी। ऐसे में विकास ने गूगल की सिक्योरिटी साइट पर इस गलती को भेजा, जिसके बाद गूगल की सिक्योरिटी टीम (एडवरडो गूगल सिक्योरिटी टीम) ने गलती को सही मानते हुए इसमें सुधार किया।

loading...
शेयर करें