वाराणसी हादसे में मरने वालों की संख्या 18 हुई, जांच टीम गठित, सेतु निगम के 4 अफ़सरो सस्पेंड

0

लखनऊ| उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मंगलवार को बड़ा दर्दनाक हादसा हुआ। यहां कैंट रेलवे स्टेशन के पास एक निर्माणाधीन पुल गिरने गिर गया। पुल के नीचे से गुज़र रही कई गाड़ियां फ़्लाईओवर के पिलर के नीचे दब गईं। अब तक 18 लोगों के शव बाहर निकाले जा चुके हैं। इस हादसे में मरनेवालों का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है। तीन लोगों को जिंदा निकाला गया। जबकि 30 अन्य घायल हुए हैं। NDRF और स्थानीय प्रशासन का राहत और बचाव ऑपरेशन ख़त्म हो गया है।

वाराणसी

इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी देर रात वाराणासी पहुंचकर हादसे की जानकारी ली और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी किया। योगी से पहले उनके निर्देश पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने नौ बजे शहर पहुंच कर दुर्घटनास्थल का जायजा लिया। वहीं फ़्लाईओवर बना रही एजेंसी सेतु निगम के 4 अफ़सरों को सस्पेंड कर दिया गया है

उल्लेखनीय है कि फ्लाईओवर का निर्माण उत्तर प्रदेश स्टेट ब्रिज कारपोरेशन करवा रहा था। हादसे के बाद मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन, लोक निर्माण विभाग तथा अन्य संबंधित विभागों को बचाव एवं राहत कार्य युद्धस्तर पर चलाने के निर्देश दिए थे। वाराणसी से सांसद पीएम मोदी और प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे पर दुख जताते हुए दोषियों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की बात कही है।

सीएम योगी ने वाराणसी हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 5-5 लाख तथा घायलों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। साथ ही उन्होंने पुलिस, स्वास्थ्य व जिला प्रशासन को हादसा प्रभावितों की हर संभव सहायता देने के निर्देश दिए हैं।

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इस घटना की जांच के लिए मुख्यमंत्री ने तीन वरिष्ठ अधिकारियों की एक टीम गठित की है, जिसमें कृषि उत्पादन आयुक्त आर.पी. सिंह, मुख्य अभियंता (सिंचाई) भूपेंद्र शर्मा एवं जल निगम के प्रबंध निदेशक राजेश मित्तल को नामित किया गया है। ये टीम 48 घंटे में रिपोर्ट सीएम को सौंपेगी।

आपको बता दें कि यह दुर्घटना वाराणसी कैंट रेलवे स्टेशन के पास जीटी रोड पर कमलापति त्रिपाठी इंटर कॉलेज के सामने घटित हुई है। घटनास्थल का नजारा बड़ा ही वीभत्स है। निर्माणाधीन पिलर के नीचे चार कारें, पांच ऑटो, एक सिटी बस और कई मोटरसाइकिल दब गई हैं।

loading...
शेयर करें