रुपाणी राज में भड़की हिंसा, फेसबुक पोस्ट के कारण हुआ बवाल

0

गुजरात। गुजरात के गांधीधाम का माहौल तब बिगड़ गया जब एक व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर भड़काऊ टिप्पणी करी। दरअसल, यह टिप्पणी माहेश्वरी समुदाय के धार्मिक नेता के खिलाफ की गई थी। व्यक्ति क् धार्मिक नेता के खिलाफ फेसबुक पर ऐसी टिप्पणी कर दी कि जगह का माहौल तनावपूर्ण और हिंसक हो गया।

टिप्पणी देखने के बाद नेता के समर्थकों ने शहर के रास्तों को जाम करना शुरु कर दिया। बात इतनी बढ़ गई कि शहर में हिंसा शुरु हो गई। साथ ही शहर में कुछ जगहों पर तोड़ फोड़ भी शुरु हो गई। हिंसा की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ पर काबू पाने के लिए आंसू के गोले भी छोड़े जिसके बाद भीड़ पर काबू पाया जा सका।

जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि घटनास्थल पर मौजूद पुलिस की गाड़ियों में 6 पुलिस की गाड़ी भी तोड़ी गई। साथ ही पुलिसकर्मियों पर पत्थरबाजी भी हुई जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल भी हो गया। घटना की जानकारी देते हुए बताया जा रहा है कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के साथ साथ वहां घटना को कवर कर रहे पत्रकारों के साथ भी मारपीट की है।

घटना की जानकारी मिलते ही गांधीधाम की विधायक माल्ती माहेश्वरी और पूर्वी कच्छ की एसपी भावना पटेल भी मौके पर पहुंची और उन्होंने लोगों को शांत रहने के लिए कहा, लेकिन भीड़ पूरी तरह से बेकाबू थी। ऐसे में प्रदर्शनकारी सिर्फ एक ही मांग कर रहे थे कि टिप्पणी करने वाले पर कार्रवाई करने की भी मांग की है।

loading...
शेयर करें