इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम पीडि़त रोगियों के लिए विटामिन-डी फायदेमंद

0

लंदन। कई बार देखा जाता है कि कुछ लोगों में अक्‍सर पेट संबंधित परेशानिया बनी रहती है। कुछ लोग दवा खा कर इससे निजात पा लेते हैं। लेकिन दर्द तब तक कम रहता है जब तक दवा का असर बना रहे। लेकिन अगर यही दर्द तीन महीनों से ज्‍यादा समय तक बना रहे साथ ही आपको अनियमित मलत्याग और पेट में सूजन हो तो आपको इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम (IBS) हो सकता है। यह सिंड्रोम पेट और आंत के विकार से संबंधित है।

इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम

बता दें, हाल ही में हुए एक शोध में पता चला कि जिन लोगों को इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम होता है उनके लिए विटामिन-डी की खुराक काफी फायदेमंद साबित होती है। क्‍योंकि IBS से पीडि़त रोगियों में विटामिन-डी की कमी हो जाती है। ऐसे में विटामिन-डी पेट संबंधित इन सभी बीमारियों जैसे दर्द, सूजन, दस्त और कब्ज से निजात दिलाता है।

वहीं शोध में यह भी पता चला कि विटामिन-डी IBS के रोगियों में जीवन की गुणवत्ता सुधारने में भी कारगर है। वहीं इंग्लैंड की शेफील्ड यूनिवर्सिटी के अध्ययन के मुख्य लेखक बर्नार्ड कॉर्फे ने कहा, “इन निष्कर्षों से स्पष्ट होता है कि IBS से पीड़ित सभी लोगों को अपने विटामिन-डी के स्तर का परीक्षण करना चाहिए और इनमें से अधिकांश को इसके सप्लीमेंट से फायदा हो सकता है।”

इन निष्कर्षो के लिए शोध दल ने सात अध्ययनों का आकलन किया था, जिनमें विटामिन-डी और IBS के बीच संबंधों पर आधारित चार अवलोकन और तीन सर्वेक्षण आधारित अध्ययन शामिल थे। यह शोध ‘यूरोपीयन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रीशन’ में प्रकाशित हुआ है।

loading...
शेयर करें