जानें आइएएस और पीसीएस की तैयारी करने वालों के लिए यह समय क्यों है सुनहरा

0

नई दिल्ली। कुछ समय पहले में औऱ अब में जमीन आसमान का फर्क है, पहले जहां हर ज्ञान के लिए हमे पुस्कालयों में जाकर किताबों की खोज करनी पड़ती थी वहीं अब हमे एक बटन क्लिक करने से पूरी जानकारी प्राप्त हो जाती है। कहने का मतलब यह है कि मौजूदा समय में आनलॉइन स्टडी पर जोर दिया जा रहा है औऱ लोग कर भी यही रहे है।

 आइएएस और पीसीएस के बदले सिलेबस ने प्रतियोगियों को ऑनलाइन स्टडी की तरफ प्रेरित किया है। सामान्य अध्ययन में अधिकांश प्रश्न ऐसे करेंट टॉपिक से पूछे जा रहे हैं,जो आसानी से नेट पर मिल जाते हैं। प्रतियोगी बाजार में किसी विशेष टॉपिक पर स्टडी मैटेरियल किताब की बजाय नेट पर सर्च करने को तरजीह दे रहे हैं। इससे खर्च तो बच ही रहा है, अपडेट जानकारी भी मिल रही है।

आइएएस और पीसीएस की परीक्षा में प्रश्नों की प्रकृति और सिलेबस पिछले दो सालों में बदला है। बहुत से ऐसे प्रश्न पूछे जाते हैं जो किताबों में खोज पाना कठिन है। ऐसे में प्रतियोगियों ने ऑनलाइन स्टडी को तरजीह दी है। आज के विद्यार्थी अपने विषय या सिलेबस के अलावा भी काफी कुछ पढ़ना और सीखना चाहते हैं। इसके लिए विद्यार्थी ऑनलाइन स्टडी पोर्टल का सहारा ले रहे हैं। इनका सबसे बड़ा फायदा उन विद्यार्थियों को भी है जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं।

loading...
शेयर करें