जिम्बाब्वे में तख्तापलट की खबरों पर आया सेना का बड़ा बयान, गहराया राजनीतिक संकट

0

हरारे। जिम्बाब्वे में सेना द्वारा स्टेट ब्रॉडकास्ट को अपने कब्जे में लिए जाने के बाद देश में तख्तापलट की खबरें जोर पकड़ने लगी हैं। ‘बीबीसी’ ने बुधवार को बताया, राजधानी हरारे में विस्फोट की खबरें भी मिलीं हैं लेकिन इसका कारण स्पष्ट नहीं है, वहीं, इससे पहले दक्षिण अफ्रीका में देश के राजदूत ने तख्तापलट की खबरों को खारिज कर दिया था।

जिम्बाब्वे की सत्तारूढ़ पार्टी ने देश के सेना प्रमुख द्वारा संभावित सैन्य हस्तक्षेप की चेतावनी देने के बाद राजद्रोह करने का आरोप लगाया था। जनरल कॉन्स्टेंटिनो चिवेंगा ने राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे द्वारा उप राष्ट्रपति को बर्खास्त करने के बाद चुनौती दी थी। वहीं, तनाव मंगलवार से बढ़ा है जब बख्तरबंद वाहन हरारे के बाहर की सड़कों पर तैनात कर दिए गए थे और इनका यहां तैनात होने का उद्देश्य भी स्पष्ट नहीं था।

हालांकि जिम्‍बाब्‍वे की सेना ने बयान जारी कर कहा है, नेशनल ब्रॉडकास्‍टर्स के ऑफिस पर ये किसी भी तरह का सैन्‍य अधिग्रहण नहीं है। साथ ही कहा गया है कि मिशन पूरा हो गया है और जल्‍द ही स्थिति सामान्‍य हो जाएगी। बता दें पिछले कुछ समय से जिम्बाब्वे में सेना और सरकार के बीच राजनीतिक तनाव बढ़ता जा रहा है।

loading...
शेयर करें

आपकी राय