अक्षय तृतीया पर भी क्यों नहीं बिका सोना, जानिए ये हैं सबसे बड़ी वजहें

0

नई दिल्ली/बेंगलुरू/चेन्नई/कोलकाता| पिछले कुछ सप्ताह के दौरान सोने की कीमतों में तीव्र उछाल के कारण अक्षय तृतीया पर सोमवार को आभूषणों की बिक्री बहुत उत्साहजनक नहीं रही। पी.सी. ज्वेलर्स के प्रबंध निदेशक बलराम गर्ग ने दिल्ली में कहा, “हमने मूल्य के संदर्भ (न कि मात्रा के सदर्भ) में बिक्री में सिर्फ 10 प्रतिशत वृद्धि हुई है। क्योंकि पिछले दो महीनों में कीमतें अधिक बढ़ी हैं और आज दिल्ली में सोने की कीमत 30,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास है।” उन्होंने कहा कि सोने की कीमत दो महीने पहले प्रति 10 ग्राम 26,000 रुपये के आसपास थी, लेकिन अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत अधिक थी। अक्षय तृतीया हिंदुओं और जैन समुदाय का धार्मिक त्योहार है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन भाग्य एवं सफलता का प्रवाह होता है। इस दिन सोने की खरीदारी शुभ मानी जाती है।

अक्षय तृतीया

अक्षय तृतीया पर सोने की कीमत रही ज्यादा

ऑल इंडिया जेम एंड ज्वेलरी फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष बछराज बमलवा ने कहा, “हमें इस साल अक्षय तृतीया के दिन सोने की बिक्री में लगभग 20 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद थी। सोने की ऊंची कीमत एक मात्र चिंता का विषय है। पिछले साल अक्षय तृतीया पर 24 कैरट सोने की कीमत प्रति 10 ग्राम 27,000 रुपये के आसपास थी, जबकि इस साल यह 30,300 रुपये से अधिक है।” दिल्ली में ही नहीं चेन्नई, बेंगलुरू और कोलकाता में भी यही हालात हैं।

मद्रास ज्वेलर्स एंड डायमंड मर्चेन्ट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष जयंतीलाल चल्लानी ने बताया, “पिछले साल के अक्षय तृतीया के मुकाबले इस साल बिक्री में 30-40 फीसदी की कमी दर्ज की गई है। इसका कारण चुनाव तथा निर्वाचन आयोग के उड़नदस्तों द्वारा वाहनों की जांच है। सिक्कों की तुलना में सोने के जेवरों की कीमत अधिक है।” तमिलनाडु में मतदान 16 मई को है।

कोलकाता के एम.पी.ज्वेलर्स के स्टोर प्रबंधक दिप्तेश डे ने कहा, “डिस्काउंट ऑफरों के बाद सोने के आभूषणों की बिक्री में 10-15 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है। लेकिन ज्वेलर्स तथा ग्राहक दोनों ही सोने की बढ़ती-घटती कीमतों को लेकर परेशान हैं। सोने की कीमतें अधिक होने के कारण लोग ज्यादा गहने खरीदने से बच रहे हैं।” कोलकाता में सेन ज्वेलर्स के सुबीर सेन ने कहा, “ज्यादा कीमतों के कारण दिन भर में बिक्री में लगातार गिरावट आती रही। हमने बिक्री में किसी तरह की बढ़ोतरी नहीं देखी।”

ऑनलाइन पोर्टल ब्लूस्टोन डॉट कॉम के मुख्य संचालन अधिकारी अरविंद सिंघल ने कहा, “हम प्रत्येक साल अक्षय तृतीया पर बिक्री में बढ़ोतरी के गवाह रहे हैं। अक्षय तृतीय को लेकर पिछले कुछ दिनों से बिक्री में बढ़ोतरी देखी गई। क्योंकि ज्यादा से ज्यादा लोग अब ऑनलाइन गहनों की खरीदारी पर भी विश्वास करने लगे हैं।” बेंगलुरू में आई लव डायमंड्स के निदेशक (संचालन) साहिल छाबड़िया ने कहा कि दो लाख से अधिक की खरीदारी के लिए स्थायी खाता नंबर (पैन) अनिवार्य होने के कारण साल 2016 में ग्राहकों में गहनों की खरीदारी के प्रति ललक कम रही।

loading...
शेयर करें