हाइड्रोजन बम परीक्षण एक बड़ा खतरा : जापान

7b1c526c12ec8e6152f0b2929f320f71
शिंजो आबे

टोक्यो। जापान ने बुधवार को उत्तर कोरिया द्वारा हाइड्रोजन बम के परीक्षण की आलोचना करते हुए इसे अपने लिए एक ‘बड़ा खतरा’ बताया। जापान ने उत्तर कोरिया के पूर्वोत्तर भाग में बुधवार को सुबह 10.30 (स्थानीय समयनुसार) बजे 5.1 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए जाने के तुरंत बाद राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की एक बैठक की।

यह भी पढ़ें – उत्‍तर कोरिया ने हाइड्रोजन बम फोड़कर दुनिया को ललकारा
उत्तरी कोरिया की आधिकारिक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, देश ने अपने पहले हाइड्रोजन बम का सफलतापूर्वक परीक्षण कर लिया है। इससे पहले उत्तर कोरिया ने 2006, 2009 और 2013 में तीन परमाणु परीक्षण किए थे।

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा, “हाइड्रोजन बम परीक्षण जापान की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए एक बड़ा खतरा है और यह अस्वीकार्य है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि जापान, उत्तर कोरिया के खिलाफ प्रतिबंध लगाने पर विचार करेगा, क्योंकि उत्तर कोरिया द्वारा किए गए परमाणु परीक्षण के कारण संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रासंगिक प्रस्तावों का उल्लंघन हुआ है।

इससे पहले उत्तर कोरिया और जापान के बीच इस बात के लिए सहमति बनी थी कि उत्तर कोरिया चार दशक पहले कथित तौर पर अगवा जापानी नागरिकों की तलाश करेगा। इसके बाद जापान ने उत्तर कोरिया पर से कुछ प्रतिबंध हटा लिए थे।

आबे ने यह भी कहा कि जापान इस मुद्दे के समाधान के लिए अमेरिका, दक्षिण कोरिया, चीन और रूस के साथ मिलकर काम करेगा।

इस बीच, जापान के विदेश मंत्री फुमियो किशिदा परमाणु परीक्षण पर अमेरिका के राजदूत कैरोलिन केनेडी से मिलने वाले हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button