अन्ना हजारे को फिर मिली जान से मारने की धमकी, मारने की वजह भी बताई

अहमदनगर सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे को ‘अशांति’ फैलाने के लिए जान से मारने की धमकी दी गई है। अन्ना हजारे को धमकी भरा पत्र मिला है। अन्ना हजारे के प्रवक्ता श्याम असवा ने कहा कि रालेगण सिद्धी गांव स्थित कार्यालय में मराठी भाषा में हाथ से लिखा पत्र मिला। पत्र की विषय वस्तु के बारे में पूछने पर उन्होंने पत्र पढ़ा कि आप समाज में अशांति फैला रहे हैं, इसलिए आपको मिटा दिया जाएगा।

अन्ना हजारे

अन्ना हजारे को धमकी देने वावा नेवासे का

पत्र भेजने वाले ने अपने को नेवासे का ‘अंबादास लश्खरे’ लिखा है। नेवासे यहां से 65 किमी दूर है। पुलिस से पूछने पर उन्होंने बताया कि हमें इस प्रकार के पत्र मिलने की जानकारी मिली है। हालांकि उन्होंने इस संबंध में विशेष जानकारी देने से इंकार कर दिया। हजारे को पहले भी इस प्रकार की धमकी भरे पत्र मिले हैं। इससे पहले मिले एक पत्र में उन्हें 26 जनवरी के दिन मारने की धमकी दी गयी थी।

असवा ने बताया, ‘पुलिस इन पत्रों को भेजने वाले का पता नहीं लगा सकी है।’ हजारे के निजी सहायक श्याम पथाडे ने पहले कहा था कि गांधीवादी इस तरह की धमकियों से नहीं डरते हैं। उल्लेखनीय है कि हजारे को ‘जेड’ श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है।

इससे पहले मिल चुकी है धमकी

इससे पहले भी अन्ना हजारे को जान से मारने की धमकी दी गई थी। धमकी देने वाले ने उनको एक लेटर लिखा था। उसमें लिखा था कि वह देश में अच्छा काम करने वाले लोगों को पसंद नहीं करता है। लेटर मिलने के बाद पुलिस ने अन्ना की सुरक्षा कड़ी कर दी थी। अन्ना को भेजे गए लेटर में लिखा है कि आप समाज सेवा करते हैं, ये बात मुझे पसंद नहीं है। मैं बहुत ही खूंखार किस्म का आदमी हूं। मैं अच्छे काम करने वाले लोगों को मिटाने का काम करता हूं। आगे भी करता रहूंगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button