अबू धाबी के प्रिंस ने ‘राम’ पर कहा कुछ ऐसा कि सब रह गए हैरान, वीडियो हुआ वायरल !

0

नई दिल्ली गणतंत्र दिवस पर हर साल मुख्य अतिथि आने की पुरानी परंपरा है। इस बार गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के तौर पर अबू धाबी के प्रिंस भारत आए हैं। ये वही प्रिंस है जिनका एक वीडियो पिछले दिनों सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा वायरल हुआ था। अबू धाबी के क्राउन प्रिंस अल नाहयान भारत आ गए हैं। वो 26 जनवरी को होने वाले समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे। हम आपको उनके बारे में कुछ अहम जानकारियां दे रहे हैं। मुस्लिम देश का क्राउन प्रिंस होने के बाद भी अल नाहयान की छवि एक सेक्युलर शख्स की है। वो सभी धर्मों का सम्मान करते हैं। इसका सबूत मोरारी बापू के एक कार्यक्रम से मिलता है। राम कथा वाचक मोरारी बापू का कार्यक्रम अब-धाबी में था। इस कार्यक्रम में अल नाहयान को भी बुलाया गया था।

अबू धाबी के प्रिंस हिंदुस्तान में मशहूर हो गए

प्रिंस अल नाहयान न केवल राम कथा के कार्यक्रम में आए बल्कि मंच से श्री राम के बारे में कुछ ऐसा बोल दिया जिसके कारण वो पूरे हिंदुस्तान में मशहूर हो गए। उसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया था।  उस कार्यक्रम में अल नाहयान मंच पर चढ़ते हैं राम कथा सुनने के लिए आई हजारों की भीड़ से कहते हैं जय सिया राम। इसके बाद तालियों की गूंज ने कुछ मिनट के लिए सभी को बहरा कर दिया था। बता दें कि मोरारी बापू का ये कार्यक्रम 17 सितंबर, 2016 से 25 सितंबर 2016 के बीच हुआ था। इस कार्यक्रम में आई भीड़ को देख कर प्रिंस अल नाहयान काफी खुश हुए थे। उन्होंने कहा था कि एक इस्लामिक देश में हिंदू कार्यक्रम में इतनी भीड़ होना अच्छी बात है।

प्रिंस अलनाहयान ने कहा कि वो मोरारी बापू की तरह ज्ञानी तो नहीं हैं लेकिन उनका धन्यवाद करते हैं कि उन्होंने यहां आकर हमारा सम्‍मान बढ़ाया। इसके बाद प्रिंस ने कहा कि यूएई की धरती सच्चाई, प्यार और दया की धरती है। उन्होंने कार्यक्रम में आए अरबी लोगों का भी धन्यवाद किया। प्रिंस अल नाहयान ने कहा कि वो इस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए बेकरार थे। उन्होंने फिर से कहा कि जय सिया राम। प्रिंस नाहयान का ये वीडियो एक बार फिर से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लोग इस पर लगातार कमेंट कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि भारत की बढ़ती ताकत के कारण एक मुस्लिम देश का प्रिंस भी जय श्री राम का उद्घोष कर रहा है। यही प्रिंस नाहयान गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के तौर पर भारत आए हैं।

इसके अलावा भी प्रिंस नाहयान के कई किस्से हैं। जिसके कारण वो अपने देश में काफी मशहूर हैं। वो लोगों की मदद करने के लिए भी जाने जाते हैं। उनके भारत आने के बाद दोनों देशों के बीच समझौते भी हुए हैं। बता दें कि अबू धाबी के साथ भारत के संबंध लगातार बेहतर हो रहे हैं। जिसके कारण पाकिस्तान के पेट में दर्द हो रहा है। दरअसल, मुस्लिम देशों के साथ अच्छे संबंधों के दम पर पाकिस्तान उछलता था। लेकिन अब भारत के संबंध भी मुस्लिम देशों के साथ अच्छे हो रहे हैं। गणतंत्र दिवस पर अबू धाबी के क्राउन प्रिंस का भारत आना दोनों देशों के मजबूत होते संबंधों का सबूत है। बता दें कि मोदी सरकार के दौरान अब तक अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और फ्रांस के राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के तौर पर आ चुके हैं।

(Note – इस खबर श्रेय www.puridunia.com नहीं लेता, ये खबर हमने India trending now वेबसाइट से ली है)

 

(India trending now वेबसाइट से साभार)

loading...
शेयर करें