अभिनेता मनोज कुमार को दादा साहेब फाल्के सम्मान

0

नई दिल्ली। फिल्म अभिनेता मनोज कुमार को 2015 के दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। सरकार ने पुरस्कार देने की घोषणा की है। 78 साल के मनोज कुमार ने कई देशभक्ति फिल्में की हैं।

manoj Kumar

अभिनेता मनोज कुमार की प्रमुख फिल्में 

मनोज कुमार ने हिमालय की गोद में, पूनम की रात, शहीद, बेदाग गुमनाम, वो कौन थी, अपने हुए पराये, फूलों की सेज, घर बसा के देखो ·गृहस्थी, हरियाली और रास्ता, माँ बेटा प्रमुख फिल्में हैं।

देशभक्ति पर दिया बयान

कुछ ही दिनों पहले एक इंटरव्यू के दौरान वर्तमान समय में देशभक्ति पर बनी फिल्मों की सार्थकता के सवाल पर उन्होंने कहा कि, आज देशप्रेम पर बनी फिल्मों की सफलता फिल्म के आइडिया पर निर्भर करती है। फिल्मों को लेकर हमारे दर्शकों की पसंद विभिन्न पकवानों से सजी खाने की थाली की तरह है, जिन्हें फिल्मों में भी वैरायटी यानि अलग-अलग तरह की चीजें पसंद आती हैं। जिस फिल्म में यह वैरायटी है वो सफल हो जाती है, भले ही वह देशभक्ति पर बनी फिल्म ही क्यों ना हो।

50 साल से हैं फिल्म इ्ंडस्ट्री में

इंडस्ट्री में 50 साल के अपने सफर पर मनोज कुमार ने संतोष जाहिर किया। उन्होंने कहा कि इन वर्षों में मैंने 40 से ज्यादा फिल्मों में काम किया जबकि दूसरों ने सैकड़ों फिल्में की। मैं बहुत विशेष फिल्में किया करता था।

भारतीयता की खोज की

मनोज कुमार ने अपनी फिल्मों के माध्यम से भारतीयता की खोज की। अपनी भावनात्मक फिल्मों की बदौलत उन्होंने मुनाफे से ज्यादा नाम कमाया। यही वजह है कि फिल्म जगत में मनोज कुमार को आज भी उनकी देशभक्ति से परिपूर्ण फिल्मों के लिए जाना जाता है।

loading...
शेयर करें