पंजाब में आप की हार से बौखलाए केजरीवाल अब एक नई पारी के लिए तैयार

0

चंडीगढ़। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी मुश्किल दौर से गुजर रही है। पहले पंजाब और गोवा में विधानसभा चुनावों में हार मिली। उसके बाद अपने राज्य दिल्ली में भी एमसीडी में बुरी तरह हारे। जिसके बाद केजरीवाल की पार्टी में अंदरूनी कलह मची हुई हैं। वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास और विधायक अमानतुल्ला में भी विरोध चल रहा है। लेकिन अब केजरीवाल एक नई शुरुआत करने की सोच रहे हैं। केजरीवाल आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई में शीघ्र ही बदलाव करने का मन बना रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल

राज्‍य में पार्टी नेतृत्‍व पर भी विचार किया जा रहा है और इस बारे में 8 मई को फैसला हो सकता है। विधायकों व सूबे के बड़े पदाधिकारियों की बैठक पार्टी के राष्‍ट्रीय कन्‍वीनर अरविंद केजरीवाल ने 8 मई को दिल्ली में बुलाई है। इस बैठक में पंजाब में नेतृत्व परिवर्तन से लेकर कार्यकारिणी में बदलाव को लेकर बड़े फैसले लिए जा सकते हैं।

उम्मीद की जा रही है कि पंजाब में पार्टी की बागडोर दिल्ली की बजाय पंजाब के नेताओं के हाथ में दी जाए और फैसले लेने का अधिकार भी उन्हीं को दिया जाए। पार्टी सूत्रों के अनुसार इन्हीं मामलों को लेकर केजरीवाल ने 8 मई को दिल्ली में सभी विधायकों व बड़े पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है। इस बाबत पार्टी के कनवीनर गुरप्रीत सिंह वडै़च घुग्घी का कहना है कि पार्टी की बैठक सोमवार को बुलाई गई है। एजेंडा इतना ही बताया गया है कि पहली बार चुनाव के बाद केजरीवाल विधायकों के साथ बैठक करेंगे।

loading...
शेयर करें