खुद सवालों से घिरे केजरीवाल ने फिर लगाया केंद्र पर आरोप, कहा- ‘दिल्लीवालों से बदला मत लो’

0

नई दिल्ली। इन दिनों खुद सवालों के घेरे में घिरे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर आरोप लगाए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी कैबिनेट के दो नए मंत्रियों की नियुक्ति संबंधी फाइल दबाने को लेकर केंद्र सरकार को फटकारा है। बताते चलें कि केजरीवाल ने ट्वीट के जरिए आरोप लगाया था कि केंद्र की वजह से दिल्ली सरकार की गतिविधियां रुकी हुई हैं।

अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर केंद्र सरकार पर लगाया आरोप

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को केंद्र सरकार पर आप सरकार में दो नए मंत्रियों को शामिल करने के लिए मंजूरी देने में विलंब करने का आरोप लगाया। केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे विलंब को ‘राजनीतिक बदले’ की कार्यवाही कहा।

केजरीवाल ने ट्वीट किया है, “केंद्र दो मंत्रियों की फाइल पर 10 दिनों से बैठी हुई है। इससे दिल्ली सरकार के ढेरों काम रुके हुए हैं। आपकी दुश्मनी हमसे है, लेकिन दिल्ली वासियों से अपना बदला मत लीजिए।”

केजरीवाल ने छह मई को तत्कालीन जल, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री कपिल मिश्रा को बर्खास्त कर दिया था और आप विधायकों राजेंद्र पाल गौतम और कैलाश गहलोत को मंत्रिमंडल में शामिल करने का प्रस्ताव भेजा है।

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी कहा है, “चूंकि कपिल मिश्रा का अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल खत्म हो चुकी है, इसलिए केंद्र को अब उन फाइलों पर मंजूरी दे देनी चाहिए।”

कपिल मिश्रा को छह मई को छह मई को हटाया गया था। इसके बाद आप के दो विधायकों राजेंद्र पाल गौतम और कैलाश गहलोत को कैबिनेट में शामिल किया गया। सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि गौतम और गहलोत की नियुक्ति से जुड़ी फाइलें मिश्रा को हटाए जाने के बाद गृह मंत्रालय को भेज दी गई थीं।

loading...
शेयर करें