ओवैसी ने की घटिया हरकत, मोदी के गौरक्षा वाले बयान पर कर दी गंदी राजनीति

0

हैदराबाद पीएम मोदी ने अपने तेलंगाना दौरे पर पर गौरक्षा मामले को एक बार फिर हवा दी थी। उन्होंने कहा कि अगर आपको वार करना है तो मुझ पर कीजिए। जिसके बाद हैदराबाद के सांसद और एआईएमआईएम के चीफ असदुद्दीन ओवैसी को पीएम मोदी की ये सही सलाह पसंद नहीं आई। उन्होंने इस बयान को भी अपनी राजनीति चमकाने के लिए इस्तेमाल किया और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गौरक्षा पर अपने बयानों को जमीनी स्तर पर अमल में लाना चाहिए।

यह भी पढ़ें : यूपी में बीजेपी के सीएम कैंडिडेट को लेकर राजनाथ ने किया बड़ा खुलासा

यह भी पढ़ें : आतंकी की धमकी, कश्मीर के लिए भारत-पाकिस्तान में होगा परमाणु युद्ध !

असदुद्दीन ओवैसी

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, पीएम का ये बयान देरी से आया है

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि कई असामाजिक तत्व गोरक्षकों का मुखौटा लगाए हुए, इस पर ओवैसी का कहना था कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री का बयान देरी से आया और सिर्फ कुछ शब्द ही काफी नहीं होंगे। उनका कहना था कि पीएम मोदी को दलितों और मुसलमानों में असुरक्षा के भाव को हटाना पड़ेगा। ओवैसी का कहना था कि इन घटनाओं से जुड़ी सभी गौरक्षक समितियां संघ परिवार से जुड़ी हुई हैं और इन पर प्रधानमंत्री को कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को राज्यों में अपने ही लोगों, अपनी पार्टी और बीजेपी सरकारों पर लगाम लगानी होगी। ओवैसी ने ये भी कहा कि ‘जब अखलाक को मारा गया, प्रधानमंत्री ने कुछ नहीं कहा, झारखंड में दो मुसलमानों को मारने की घटना पर भी वह चुप रहे, जम्मू के एक ट्रक चालक की मौत की खबर पर भी प्रधानमंत्री चुप रहे।

क्या कहा था मोदी ने

मोदी ने दलित उत्पीड़न पर अपनी चुप्पी तोड़ी। उन्होंने कहा कि अगर आपको वार करना है तो मुझ पर कीजिए। मेरे दलित भाइयों पर वार करना बंद कीजिए। गोली चलानी है तो मुझ पर चलाइए। उन्होंने कहा कि मैं बता देना चाहता हूं कि लोगों के बीच भेदभाव किसी भी रूप में स्वीकार नहीं किया जाएगा। हमें यह रोकना ही होगा।

loading...
शेयर करें