असम विधानसभा चुनाव 2016: बदरुद्दीन का दावा किसी को नहीं मिलेगा बहुमत

0

नई दिल्ली। असम विधानसभा चुनाव 2016 बदरुद्दीन का दावा किसी को नहीं मिलेगा बहुमत के चुनाव हो चुके हैं। दो चरणों में हुए चुनाव में सभी पार्टियों ने जोर अजमाया है। असम में मतगणना 16 मई को होगी। असम विधानसभा चुनाव 2016 में किस पार्टी को बहुमत मिलेगा यह कहना काफी मुश्किल है। वहीं असम में ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट एआईयूडीएफ के सुप्रीमो बदरुद्दीन जमाल ने एक भविष्यवाणी करके सबको चौंका दिया है।

badruddin

असम विधानसभा चुनाव 2016 पर बदरुद्दीन जमाल का बयान

असम विधानसभा चुनाव 2016 में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट एआईयूडीएफ के सुप्रीमो बदरुद्दीन जमाल ने कांग्रेस पर हमला किया है। उन्‍होंने राज्य में महागठबंधन न होने के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। जमाल ने सोशल साइट पर ट्वीट किया है कि अगर राज्य में सेकुलर वोटों का बिखराव होता है तो इसके लिए कांग्रेस जिम्मेदार होगी।

जमाल का ट्वीट

जमाल ने ट्वीट किया कि हमने कांग्रेस के साथ गठबंधन के लिए पूरा जोर लगाया था। इसे लेकर प्रशांत किशोर ने राहुल गांधी से बात भी की थी। नीतीश कुमार और लालू यादव ने भी महागठबंधन के लिए हर मुमकिन कोशिश की थी जिसमें कांग्रेस, एजीपी, जेडीयू, आरजेडी और दूसरे तमाम सेकुलर ताकतें शामिल हों।

दिलचस्प है मुकाबला 

असम में इस बार बेहद दिलचस्प मुकाबला हो रहा है। पहली बार बीजेपी यहां प्रमुख ताकत के रूप में उभरी है। 15 साल से सत्ता संभाल रही कांग्रेस के लिए मुश्किलें दिख रही हैं। एआईयूडीएफ ने कांग्रेस की मुश्किलों में और इजाफा कर दिया है। इन सबके बीच बीजेपी को रोकने के लिए कोई गठबंधन परवान नहीं चढ़ सका और इसी दर्द को बदरूद्दीन ने बयां किया है। बता दें कि बदरुद्दीन की मुस्लिम वोटों पर जबरदस्त पकड़ है।

loading...
शेयर करें