बच्चों का ब्रेनवॉश करने के लिए #ISIS ने बनाया खतरनाक एप

0

जानवरों जैसा बर्ताब करने वाले आतंकी संगठन आईएसआईएस की प्रोपोगैंडा टीम ने एक एप लॉन्च किया है। आईएसआईएस का एप खासतौर पर बच्चों को जिहादी बनाने के लिए लॉन्च किया गया है। अरबी भाषा के इस एप में बच्चों को भड़काने की पूरी कोशिश की गई है।

यह भी पढ़े : #ISIS छोड़कर भाग रहे 45 जिहादियों को जिंदा दफन किया

आईएसआईएस का एप

आईएसआईएस का एप बच्चों को बना रहा जिहादी

आईएसआईएस का एप उन सारी हरकतों से भरा पड़ा है जो वो चाहते हैं। इस में बच्चों का ब्रेनवॉश करने के लिए सितारों और गुब्बारों से लेकर फूलों तक का इस्तेमाल किया गया है।

इतना ही नहीं आआईएसआईएस का एप 1ईएसआईएस का एप बच्चों को जिहादी बनाने की पूरी शिक्षा दे रहा है। इसमें बम बंदूक से लेकर मौत के सभी साजों-सामान को दिखाया गया है।

इसमें आईएस की टीम ने ऐसे गानों को भी शामिल किया है जिनसे बच्चे उनकी ओर आकर्षित हों। अरबी भाषा के अल्फाबेट्स और हथियारों की इसमें ट्रेनिंग दी गई है।

एप को बनाते समय इस बात का भी खास ख्याल रखा गया है कि किस तरह के रंग बच्चे पसंद करते हैं। इसीलिए एप के रंग बेहद चटकीले हैं।

एप में सितारों गुब्बारों और फूलों के अलावा बम, बंदूक, तलवार, गोलियों और रॉकेट लॉन्चर आदि को भी दिखाया गया है। इस्लामिक स्टेट अपने इलाके में पूरी तरह से बच्चों का ब्रेनवॉश करने में लगा है।

आईएस ने बच्चों को जिहादी बनाने के लिए चलाए जा रहे अपने अभियान को “Cubs of the Caliphate” नाम दिया है। इस एप को आईएस की प्रोपोगैंडा टीम लाइब्रेरी ऑफ ज़ील ने तैयार किया है।

आईएक का एप बच्चों को ये भी बताना चाहता है कि किस तरह मिडिलईस्ट में इस्लामिक स्टेट का राज आ सकता है।

आईएसआईएस का एप 2

कुलमिलाकर इस एप का केवल एक मकसद सामने आया है। आतंकवादी संगठन सीरिया और इराक में लगातार अपनी जमीन खोता जा रहा है। हवाई हमलों से डरकर उसी के जिहादी उसका साथ छोड़कर भाग रहे हैं।

आईएस हमेशा से बच्चों को अपना शिकार बनाता रहा है। कई जगहों पर आत्मघाती हमलों के लिए इस्लामिक स्टेट ने बच्चों का इस्तेमाल किया है। बच्चा समझकर सुरक्षाकर्मी इन पर शक भी नहीं करते हैं और ये धमाका करके अपने आप को उड़ा लेते हैं।

loading...
शेयर करें