निशानेबाजी विश्व कप में भारत को पांचवां स्थान

0

नई दिल्ली। भारतीय निशानेबाजों ने शुक्रवार को संपन्न हुए आईएसएसएफ विश्व कप में एक स्वर्ण पदक सहित पांच पदक हासिल करते हुए भारत को पांचवां स्थान दिलाया। यहां डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में हुए निशानेबाजी विश्व कप के अखिरी दिन शुक्रवार को अंगद वीर सिंह बाजवा ने अमेरिका की हैली डुन के साथ मिश्रित टीम स्कीट स्पर्धा में ग्रांप्री. कांस्य पदक जीता।

आईएसएसएफ विश्व कप

आईएसएसएफ विश्व कप में भारत ने दिखाया सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

आईएसएसएफ विश्व कप में भारत का यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। प्रतियोगिता में भारत के लिए पूजा घाटकर ने महिलाओं की एयर राइफल स्पर्धा में कांस्य, अंकुर मित्तल ने पुरुषों की डबल ट्रैप स्पर्धा में रजत, अमनप्रीत सिंह ने पुरुषों की 50 मीटर पिस्टल स्पर्धा में रजत और दो बार ओलम्पिक खेल चुके जीतू राय ने पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में कांस्य और 50 मीटर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता।

हालांकि ग्रांप्री. स्पर्धा में जीता पदक देश की पदक सूची में शामिल नहीं किया जाता। शुक्रवार को हुए एकमात्र श्रेणी के स्पर्धा में हेडेन स्टेवार्ट और तीन बार ओलम्पिक चैम्पियन रह चुकीं और स्कीट स्पर्धा की दिग्गज किंबर्ले रोडे की अमेरिकी जोड़ी ने मिश्रित स्कीट स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता। अर्जेटीना की भाई बहन की जोड़ी फेदेरिको और मेलिसा गिल ने स्पर्धा का रजत पदक हासिल किया।

कुल 22 जोड़ियों में से छह जोड़ियां सेमीफाइनल में पहुंचीं, जहां उन्हें तीन-तीन की जोड़ियों के रूप में दो समूहों में बांट दिया गया। इसके बाद हर समूह से 30 शॉट के स्पर्धा में न्यूनतम स्कोर करने वाली जोड़ी बाहर कर दी गई, जबकि दोनों समूहों की विजेता जोड़ियां सीधे खिताबी मुकाबले में आमने-सामने आ गईं।

हर समूह में दूसरे नंबर पर रहने वाली जोड़ियों के बीच कांस्य पदक के लिए प्रतिस्पर्धा हुई। अंगद और हैली की जोड़ी अपने समूह में दूसरे नंबर पर रही। वे इटली के मौजूदा ओलम्पिक चैम्पियन गाब्रिएले रोसेट्टी और डायना बाकोसी से बेहतर रहे। कांस्य पदक मुकाबले में अंगद ने अपने 15 शॉट में सिर्फ एक चूक की।

loading...
शेयर करें