आईपीएल : मुंबई का दमदार प्रदर्शन, पंजाब को 25 रनों से हराया

0

मोहाली| सलामी बल्लेबाज पार्थिव पटेल (81) और अंबाती रायडू (65) की धुआंधार पारियों और फिर अपनी गेंदबाजी की बदौलत मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के नौवें संस्करण के 21वें मैच में सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब को 25 रनों से हरा दिया।

आईपीएल

आईपीएल में मुंबई ने पंजाब के सामने रखा 190 रनों का लक्ष्य

पंजाब क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले गए मैच में मुंबई ने पंजाब को 190 रनों का लक्ष्य दिया था जिसे पंजाब की टीम हासिल नहीं कर सकी और पूरे ओवर खेलने के बाद भी सात विकेट खोकर 164 रन ही बना सकी।

पंजाब का टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का फैसला उसके लिए गलत साबित हुआ। टीम की गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण दोनों ने ही मैच में समर्थकों को निराश किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई ने 20 ओवर में छह विकेट के नुकसान पर 189 रन बनाए थे।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब के बल्लेबाज मुरली विजय (19) पारी की तीसरी गेंद पर भाग्यशली रहे। टिम साउदी की गेंद पर क्रुणाल पंड्या ने उनको जीवनदान दिया। इसके बाद विजय ने दो चौके और एक छक्का मारा, लेकिन वह जीवनदान का भरपूर फायदा नहीं उठा सके और 2.5 ओवर में साउदी ने उन्हें जोस बटलर के हाथों कैच कराया।

दूसरे सलामी बल्लेबाज मनन वोहरा (7) भी विजय के जाने के बाद ज्यादा देर मैदान पर नहीं टिक सके और 4.5 ओवर में जसप्रीत बुमराह की गेंद पर बटलर ने उन्हें लपक टीम को दूसरी सफलता दिलाई।

टीम संकट में थी और मैदान पर दो आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल (56) और शॉन मार्श (45) थे। दोनों ने धीरे-धीरे पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने सूझबूझ भरी पारी खेली और टीम को धीरे-धीरे लक्ष्य के करीब ले जा रहे थे।

जब लग रहा था कि यह जोड़ी टीम को जीत दिला देगी तभी मार्श, साउदी की गेंद को सीमा के पार भेजने के चक्कर में स्कावर लेग बाउंड्री पर रायडू के हाथों लपके गए। मार्श जब आउट हुए तब टीम का स्कोर 121 था और टीम को 30 गेंदों में 69 रनों की जरूरत थी।

मार्श के जाने के बाद अगले ओवर में मैक्सवेल ने आईपीएल के इस सत्र का अपना पहला अर्धशतक पूरा किया। इसी ओवर में कप्तान डेविड मिलर (नाबाद 30) ने केरन पोलार्ड पर छक्का जड़ा।

टीम की उम्मीदें मैक्सवेल पर टिकीं थी लेकिन बुमराह ने उन्हें 18वें ओवर की पहली गेंद पर बोल्ड कर पंजाब की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। उन्होंने अपनी पारी में 39 गेंदों का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का लगाया।

मुंबई की जीत यहां से तय लग रही थी। पंजाब को 17 गेंदों में 51 रनों की जरूरत थी लेकिन टीम इस लक्ष्य को हासिल नहीं कर सकी और और मैच हार गई। इस सत्र में पंजाब की यह पांचवीं हार है और वह अंक तालिका में सबसे नीचे है।

मुंबई की तरफ से बुमराह ने तीन, साउदी ने दो और मिशेल मैक्लेघन ने दो-दो विकेट लिए। पार्थिव पटेल को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

मुंबई की यह इस सत्र में तीसरी जीत है और वह अंकतालिका में पांचवें स्थान पर आ गई है।

इससे पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई को पहला झटका पारी की दूसरी गेंद पर ही लगा। संदीप शर्मा ने मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा (0) को विकेट के पीछे निखिल नाइक के हाथों कैच करा पवेलियन भेजा।

इसके बाद पंजाब के गेंदबाजों को दूसरे विकेट के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा। पार्थिव और रायडू ने मोर्चा संभाला और टीम को शुरुआती झटके से उबारते हुए अच्छी स्थिति में ला खड़ा किया। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 137 रनों की शतकीय साझेदारी की।

इस साझेदारी में जितना योगदान दोनों की शानदार बल्लेबाजी का था, उतना ही पंजाब के खराब क्षेत्ररक्षण का भी रहा। पंजाब ने पार्थिव और रायडू को जीवनदान दिए। दोनों ने 14.1 ओवर में 9.67 की औसत से रन जोड़े।

अक्षर पटेल ने रायडू को मनन वोहरा के हाथों कैच करा टीम को दूसरी सफलता दिलाई। रायडू ने अपनी पारी में 37 गेंदों में चार चौके और इतने ही छक्के लगाए। दूसरे छोर पर खड़े पार्थिव लगातार रन बरसाते जा रहे थे। इसमें बटलर ने उनका बखूबी साथ दिया। उन्होंने 13 गेंदों में 24 रनों की पारी खेली जिसमें तीन चौके और एक छक्का शामिल था।

पार्थिव को 18.4 ओवर में 180 के स्कोर पर मिशेल जॉनसन ने आउट किया। उन्होंने अपनी पारी में 58 गेदों खेलीं और 10 चौके और दो छक्के लगाए।

पंजाब की तरफ से मोहित ने तीन विकेट लिए। संदीप, जॉनसन और अक्षर को एक-एक सफलता मिली।

loading...
शेयर करें