कोहली और डिविलियर्स का कमाल, बेंगलुरू ने हैदराबाद को 45 रनों से हराया

0

आईपीएल 9बेंगलुरू। पहले बल्लेबाजों फिर गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर आईपीएल 9 में मंगलवार को एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू ने सनराइजर्स हैदराबाद को 45 रनों से हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए बेंगलुरू ने निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट के नकुसान पर 227 रन बनाए थे। जवाब में हैदराबाद की टीम पूरे 20 ओवर खेलने के बाद छह विकेट के नुकसान पर 182 रन ही बना सकी।

आईपीएल 9 में बेंगलुरू की पहली जीत

हैदराबाद के डेविड वार्नर ने आईपीएल 9 के पूरे मैच में बेंगलुरू के खिलाफ अकले लड़ते नजर आए। 228 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद के कप्तान वार्नर (58) ने शुरू से ही बेंगलोर के गेंदबाजों पर प्रहार किए। वार्नर ने शिखर धवन (8) के साथ पहले विकेट के लिए 3.1 ओवरों में 35 रन जोड़े। इस साझेदारी में ज्यादा रन वार्नर ने ही बनाए थे। धवन को ऑफ स्पिनर परवेज रसूल ने पवेलियन भेजा।

वार्नर एक छोर पर खड़े होकर तेज खेल खेल रहे थे। धवन के बाद आए मोइसिस हेनरिक्स (19) ने वार्नर का साथ दिया और एक-एक रन लेकर स्ट्राइक वार्नर को देते रहे। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 51 रन जोड़े। बेंगलोर को बड़ी सफलता शेन वाटसन ने दिलाई। उन्होंने 8.4 ओवर में 86 के कुल स्कोर पर एक मात्र खतरा वार्नर को पवेलियन भेज हैदराबाद की जीत की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। वार्नर ने अपनी पारी में महज 25 गेंदों का सामना करते हुए पांच छक्के और चार चौक्के लगाए। वार्नर के जाने के बाद हैदराबाद की बल्लेबाजी कमजोर पड़ गई। टीम के बल्लेबाज जरूरी रन गति के हिसाब से रन नहीं बना पाए और टीम मैच हार गई।

आशीष रेड्डी ने जरूर 18 गेंदों में 32 रन जोड़ टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन दूसरे छोर से उन्हें समर्थन नहीं मिला। बड़े लक्ष्य के दबाव में टीम के बल्लेबाज तेजी से रन बटोरने के कारण अपने विकेट गंवाते रहे। बेंगलोर की तरफ से युजवेन्द्र चहाल और वाटसन ने दो-दो विकेट लिए। एडम मिलने, रसूल को एक-एक विकेट मिला।

इससे पहले टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी बेंगलोर की टीम के कप्तान कोहली और डिविलियर्स के सामने हैदराबाद के गेंदबाजों की एक नहीं चली। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 14.3 ओवरों में 10.82 की औसत से 157 रनों की रिकार्ड साझेदारी कर डाली। डिविलियर्स ने अपनी आतिशी पारी में 42 गेंदों का सामना करते हुए छह छक्के और सात चौके लगाए। दूसरी तरफ कप्तान कोहली ने टी-20 विश्व कप का विराट रूप आईपीएल में भी जारी रखते हुए 51 गेंदों में तीन छक्के और सात चौके लगाए।

भुवनेश्वर कुमार ने क्रिस गेल (1) को पारी के दूसरे ओवर में छह के कुल स्कोर पर पवेलियन भेज दिया था। लेकिन, इसके बाद दोनों ही बल्लेबाजों ने हैदराबाद के हर गेंदबाज की जमकर धुनाई की और मैदान के हर कोने में शॉट लगाए।

भुवनेश्वर ने कोहली को 16वें ओवर की पांचवीं गेंद पर 163 के कुल स्कोर पर पवेलियन भेजा। कोहली के बाद आए शेन वाटसन ने भी आते ही आक्रामक खेल खेला। उन्होंने 17वें ओवर की अंतिम तीन गेंदों पर लगातार तीन छक्के लगाए। गेंदबाज करन शर्मा थे।

डिविलियर्स 18वें ओवर में 183 के कुल स्कोर पर मुस्तफिजुर रहमान का शिकार हुए। डिविलियर्स के बाद रहमान ने वाटसन (19) को भी चलता किया। डिविलियर्स को मैन ऑफ द मैच चुना गया। अंत में युवा सरफराज खान ने अपनी बेजोड़ प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए 10 गेंदों में दो छक्के और पांच चौकों की मदद से नाबाद 35 रनों की पारी खेल टीम को 227 के विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया। सरफराज की इस पारी का बेंगलुरू की जीत में अहम योगदान रहा।

loading...
शेयर करें