आतंकी हाफिज सईद पर एक और कार्रवाई: रद्द किए 44 हथियारों के लाइसेंस

0

इस्‍लामाबाद। भारत के पड़ोसी देश पाकिस्‍तान ने जमात-उद-दावा चीफ और आतंकी हाफिज सईद पर फंदा और  कस दिया है। पहले उसको नजरबंद किया। फिर उसको आतंकी घोषित कर दिया। इसके बाद पाकिस्‍तान के रक्षा मंत्री ने कहा कि हाफिज सईद समाज के लिए खतरा है। वहीं अब यह खबर आ रही है कि पाकिस्‍तान ने हाफिज के 44 लाइसेंस रद्द कर दिए हैं।

हाफिज के 44 लाइसेंस रद्द

हाफिज के 44 लाइसेंस रद्द होने पर मची सनसनी

खबर यह भी आ रही है कि पाकिस्तान ने हाफिज सईद और उसके संगठनों के अन्य सदस्यों को जारी 44 हथियारों के लाइसेंस रद्द कर दिए हैं। पंजाब के गृह विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि यह कदम सईद और उसके संगठनों जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत के खिलाफ सरकार की कार्रवाई के अनुरूप उठाए हैं।

सुरक्षा कारणों का दिया हवाला

अधिकारी ने बताया कि पंजाब गृह विभाग ने सुरक्षा कारणों के तहत 44 हथियारों के लाइसेंस रद्द कर दिए हैं।  सरकार ने 30 जनवरी को सईद और उसके चार अन्य सहयोगियों को 90 दिनों के काल के लिए लाहौर में नजरबंद कर दिया है। सईद और जमात और फलाह के 37 सदस्यों को एग्जिट कंट्रोल लिस्ट में डाल दिया गया है। इसके तहत उनके देश छोड़ने पर रोक है।

पाकिस्तान के लिए गंभीर खतरा हो सकता है हाफिज सईद: रक्षा मंत्री

पाकिस्तान का कहना है कि आतंकवाद-विरोधी कानून के तहत सूचीबद्ध किया गया जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद देश के लिए एक गंभीर खतरा साबित हो सकता है और इसलिए देश के हित को ध्यान में रखते हुए उसे नजरबंद किया गया। मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड की ओर से देश पर मंडराने वाले खतरे को पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ने जर्मनी स्थित म्यूनिख में एक अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा सम्मेलन में इयह बयान दिया था।

loading...
शेयर करें