आम बजट 2016-17: 29 फरवरी को

नई दिल्ली। सरकार के साथ आम लोगों को भी आम बजट की उत्सुकता रहती है। लोगों की उत्‍सुकता को दूर करने के लिए मोदी सरकार ने कमर कस ली है। मोदी सरकार में वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने साफ कर दिया है कि 2016-17 के बजट के लिए तैयारियां हो रही हैं। जयंत सिन्‍हा का कहना है कि इस बार 29 फरवरी को बजट पेश किया जाएगा। वहीं वित्‍त राज्‍य मंत्री ने यह भी कहा कि आम बजट के लिए वित्‍त मंत्री अरुण जेटली पर काफी दबाव है।

sinha

आम बजट में रहेगा दबाव

जयंत सिन्हा ने कहा कि 2016-17 के आम बजट पर वित्त मंत्री अरुण जेटली पर किसानों की सुविधाओं का खास ख्याल रखने का बहुत दवाब है। इसके साथ ही सूखा ग्रस्त इलाकों में लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने की भी चुनौती कम नहीं है। पिछले साल बारिश ना होने की वजह से सूखे की मार झेल रहे कई राज्यों के किसानों को राहत देने के लिए वित्त मंत्री को ठोस कदम उठाना पड़ेगा।

सरकार ने मांगा है सुझाव
मोदी सरकार ने आम बजट के लिए लोगों से राय मांगी है। आम बजट तैयार करने में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने के इरादे से यह कदम उठाया गया है। एक सरकारी बयान के मुताबिक, माईजीओवी डॉट इन पर मिलने वाले लोगों के विचार और प्रस्ताव को वित्‍त वर्ष 2015-16 में शामिल किया गया था। बजट के लिए भी सुझाव माईजीओवी डॉट इन पोर्टल पर दिए जा सकते हैं।

संबंधित पक्षों से होती है परिचर्चा
आम बजट को अंतिम रूप देने से पहले सरकार ट्रेड यूनियनों, अर्थशास्त्रियों, उद्योग प्रतिनिधियों और सामाजिक क्षेत्र के कार्यकर्ताओं समेत विभिन्न संबद्ध पक्षों के साथ परिचर्चा करती है और उनके सुझाव सुनती है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button