RTI एक्टिविस्ट श्रीनाथ की हत्या, कावेरी नदी में फेंकी लाश

0

मैसूर, (जितेन्द्र निषाद)। आरटीआई एक्टिविस्ट श्रीनाथ के गायब होने की रिपोर्ट के एक दिन बाद उनकी लाश शुक्रवार को बरामद कर ली गई है। श्रीनाथ का शव कालीन में लिपटी मांड्या जिले में कावेरी नदी से बरामद की गई है। पुलिस के मुताबिक, श्रीनाथ की हत्या करके उनकी लाश को कालीन में लपेट कर श्रीरंगपटना में निमिशाम्बा मंदिर के पास नदी में फेंक दिया गया। उनकी लाश पर चाकू के कई निशान पाए गए हैं।

आरटीआई एक्टिविस्ट श्रीनाथ

आरटीआई एक्टिविस्ट श्रीनाथ की हत्या

राजाराजेश्वरी नगर निवासी श्रीनाथ इलेक्ट्रिक कॉन्ट्रैक्टर के तौर पर काम करते थे। खबरों की गर मानें तो श्रीनाथ गुरुवार की शाम एक इंजिनियर और वर्कर के साथ निकले थे। उनके भाई ने बताया है कि श्रीनाथ ने नहीं लौटने पर हमने कुवेम्पू नगर पुलिस स्टेशन में शुक्रवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने कावेरी नदी से उनकी लाश बरामद की है। श्रीनाथ के भाई ने दोषियों को सजा दिलाने की अपील की है।

पोस्टमार्टम के बाद श्रीनाथ का अंतिम संस्कार कर दिया गया। उनके परिजनों और दोस्तों ने बताया कि श्रीनाथ ने केंद्रीय सरकार की एजेंसी से जुड़े एक वर्कर्स यूनियन द्वारा लेआउट में फंड की गड़बड़ी को उजागर किया था। उन्होंने एंटी करप्शन ब्यूरो को ऐसे अधिकारियों की सूची भी सौंपी थी जिन्होंने अवैध रुप से संपत्ति एकत्र की हुई है।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि हत्या की जांच के लिए दो टीमों का गठन किया गया है, केस को जल्दी ही सुलझा लिया जाएगा।

loading...
शेयर करें