ब्रेक्सिट से निपटने के लिए भारत तैयार

0

आरबीआईनई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर रघुराम राजन ने आज कहा कि यूरोपीय संघ (ईयू) से ब्रिटेन के निकलने का निर्णय चौंकाने वाला है। लेकिन भारतीय रिजर्व बैंक आवश्यकता पड़ने पर कदम उठाने को लेकर तैयार है। राजन ने ‘सीएनबीसी टीवी18’ को बताया, “भारतीय रिजर्व बैंक बाजारों पर नजर रखे हुए है। जब भी बाजारों में उतार-चढ़ाव होगा हम उचित रूप से इससे निपटेंगे।”

आरबीआई जनमत संग्रह के नतीजों को लेकर तैयार था

राजन ने कहा कि आरबीआई जनमत संग्रह के नतीजों को लेकर तैयार था। हालांकि सर्वेक्षण में ‘ब्रेक्सिट’ के बजाय ‘रीमेन’ को लेकर माहौल गर्म था।

उन्होंने कहा, “बाजार में किसी भी तरह की अस्थिरता में अवसर भी होते हैं। रुपये में उतार-चढ़ाव हो सकता है। हम सभी बाजारों पर नजर रखे हुए हैं।”

राजन ने सितंबर में भारतीय रिजर्व बैंक प्रमुख पद से हटने के फैसले पर पुनर्विचार के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि मैं इस सवाल का जवाब नहीं दे सकता। मैं उसमें नहीं पड़ना चाहता। मुझे नहीं लगता कि आपको इस तरह के सवाल पूछने चाहिए।”

 

loading...
शेयर करें