भारत में संगीतकारों को उपेक्षित किया जाता है

0

मुंबई आजकल अपनी नई म्यूजिक एल्बम आइंदा पर काम कर रहे सिंगर और म्यूजिशियन आर्को प्रावो मुखर्जी ने कहा कि भारत में संगीतकार और लेखक भारत में सबसे उपेक्षित लोग होते हैं।

आर्को प्रावो मुखर्जी

आर्को प्रावो मुखर्जी ने कहा कि पश्चिम में संगीतकार सबसे बड़े लोग होते हैं

आर्को  ने कहा कि यहां लोग संगीतकारों व गीतकारों को नहीं जानते हैं और उनका प्रचार भी ठीक से नहीं होता है। जबकि, पश्चिम में संगीतकार सबसे बड़े लोग होते हैं। पहले जब इंडी पॉप का दौर था जब हर कोई जानता था कि यह गाना किसका है। लेकिन, फिल्मों में पूरा ध्यान केवल अभिनेताओं-अभिनेत्रियों पर डाल दिया जाता है और लेखक अधिकतर उपेक्षित कर दिए जाते हैं।”

अपने नए सिंगल पर बात करते हुए आर्को ने कहा कि यह पहली बार है जब मैं गैर-फिल्मी गीत कर रहा हूं। अभी तक मैंने केवल फिल्मी गीत और कुछ रीमिक्स किए हैं।”

उन्होंने कहा कि मैं इस गाने पर काम करते हुए बहुत खुश हूं। यह मुंबई और लॉस एंजेलिस में रिकॉर्ड किया गया है। आपको बता दें कि आर्को प्रावो मुखर्जी ने ‘यारियां’, ‘कपूर एंड सन्स’, ‘हेट स्टोरी-2’ सहित कई फिल्मों में गाना गाया है।

loading...
शेयर करें