जेएनयू विवाद : ‘जिस तरह आतंकवादी मारे जाते हैं वैसे ही तुम्हें मार देंगे’

0

नई दिल्ली जेएनयू का मुद्दा दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है। जेएनयू के अध्‍यक्ष कन्‍हैया की गिरफ्तारी के बाद से ये मामला और गरमा गया है। इसी बीच आम आदमी पार्टी के वरिष्‍ठ नेता आशुतोष को धमकी मिली है। आशुतोष ने दावा किया है कि जेएनयू (जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी) विवाद पर उन्हें दूसरी बार जान से मारने की धमकी मिली है।

 आशुतोष

आशुतोष ने ट्वीट कर दी जानकारी

आशुतोष ने ट्वीट किया, ‘‘जेएनयू मुद्दे पर मुझे व्हाट्सएप्प पर जान से मारने की धमकी मिली और कहा गया कि जिस तरह आतंकवादी मारे जाते हैं वैसे ही हम तुम्हें मार देंगे। दिल्ली पुलिस को सूचित किया। ऐसा 24 घंटे में दूसरी बार हुआ’’। आप नेता ने कहा कि इस मुद्दे पर उन्होंने पुलिस से संपर्क किया है।

सीताराम युचेरी को भी धमकी भरे फोन कॉल्स

जेएनयू विवाद में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी को भी जेएनयू के देशद्रोह के आरोपी छात्रों का समर्थन करने के लिए धमकी भरे फोन कॉल्स आए हैं। इस घटना के बाद दिल्ली पुलिस ने माकपा कार्यालय के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी। पुलिस उपायुक्त जतिन नरवाल ने बताया कि माकपा मुख्यालय के फोन नम्बर पर तीन धमकी भरे कॉल्स आने की शिकायत मिलने के बाद मामला दर्ज कर लिया गया है।

क्‍या है जेएनयू का मामला

9 फऱवरी को जेएनयू में वामपंथी और दलित संगठनों से जुड़े छात्रों ने संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की बरसी मनाई। इसमें कश्मीर के छात्र भी शामिल थे। इसके लिए कैंपस में एक सांस्कृतिक संध्या का आय़ोजन भी किया गया था। इस दौरान देश विरोधी नारे भी लगाए गए। आरोप है कि विरोध करने पर इन लोगों ने ABVP के कार्यकर्ताओं की पिटाई भी की। एबीवापी के छात्रों ने देर रात कैम्पस में एक बड़ी रैली निकाली। रैली में शामिल छात्र-छात्राओं ने अफजल गुरू का समर्थन करने वालों के खिलाफ नारेबाजी की। रैली में शामिल छात्र तिरंगा झंडा लिए चल रहे थे, और भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगा रहे थे।

loading...
शेयर करें