रावत सरकार का बड़ा फैसला, सरकारी स्कूल भी होंगे इंग्लिश मीडियम

0

देहरादून। राज्य में शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिए शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने एक नई योजना बनाई है, जिसके मुताबिक राज्य में करीब 18,000 सरकारी स्कूलों के बच्चों को अब से हिंदी की बजाय इंग्लिश मीडियम में पढ़ाया जायेगा। मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि ये योजना कई चरणों में लागू की जाएगी जिसकी शुरुआत 2018-19 शैक्षणिक सत्र से होगी। इसमें पहली क्लास इंग्लिश मीडियम होगी।

इंग्लिश मीडियम

इंग्लिश मीडियम होंगे अगले साल से सरकारी स्कूल

उन्होंने बताया कि ‘अगले साल से हम सरकारी स्कूलों में पहली क्लास को इंग्लिश मीडियम बनायेंगे। इसके अलावा सभी क्लासों में इंग्लिश मीडियम लागू करेंगे’। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि हाल ही में सरकारी स्कूलों को अंग्रेजी के 75 सामान्य वाक्य भेजे गए हैं, जिन्हें रोजाना की क्लास रूटीन में शामिल किया जायेगा।

इस तरह बच्चे जब छोटे-छोटे वाक्य और शब्द बोलना सीख जाएंगे तो धीरे-धीरे कठिन वाक्य भी समझने लगेंगे। ऐसा करने से पढाई का माध्यम आसानी से बदल जायेगा। इस पहल को लेकर स्कूलों में काफी उत्साह है। इसके अलावा स्कूली बच्चों के लिए सीखना आसान हो यह सुनिश्चित करने के लिए अनोखे तरीके अपना रहे हैं।

चकराता में उप शिक्षा अधिकारी पंकज कुमार ने शिक्षकों से चार्टों पर अंग्रेजी में वाक्य लिखकर उसे स्कूलों में टांगने को कहा है। उन्होंने बताया, ‘हम इस साल जुलाई में शुरू होने वाले शैक्षणिक सत्र से कुछ छांटे हुए वाक्यों का इस्तेमाल करने के लिए शिक्षकों और छात्रों को प्रोत्साहित करेंगे। यह एक बड़ी पहल है और अगर हर कोई सहयोग करे तो काफी सफल हो सकती है।’

loading...
शेयर करें