इस्लामोफोबिया के लपेटे में मैकडोनाल्ड, लगा विभेद का आरोप

0

इस्लामोफोबिया एक नया टर्म है दुनिया इससे ग्रस्त है और अब शायद दिल्ली भी। क्योंकि दिल्ली में एक आदमी ने आरोप लगाया है कि मैकडोनाल्ड ने मुस्लिम इलाकों में पिज्जा की सप्लाई करने से मना किया। उसने दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग से इसकी शिकायत की है। शिकायत में कहा गया है कि मैकडोनाल्ड ने ओखला के निकटवर्ती अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में भोजन की आपूर्ति करने से मना किया। यह व्यक्ति न्यू फ्रैड्स कालोनी का निवासी है। जिसने भेदभाव का आरोप लगाया है। चार जनवरी को इसने शिकायत की है। वह ओखला में गफ्फार मंजिल में रहता है। आयोग ने इस पर जवाब मांगा है।

इस्लामोफोबिया

इस्लामोफोबिया की शिकायत आयोग से

तारिक खान नामक इस आदमी ने कहा कि उसके घर कुछ मेहमान आये हुए थे उसने आर्डर दिया और करीब एक घंटे इंतजार के बाद उसने फोन किया तो कंपनी के एक्जीक्यूटिव ने बताया कि वह वहां आर्डर की सप्लाई नहीं कर सकते हैं क्योंकि यह क्षेत्र उनकी निगेटिव लिस्ट में शामिल है। खान ने कहा कि हम समझते हैं क्योंकि यह अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्र है। खान ने आयोग से इस मामले में हस्तक्षेप करने को कहा। उसने कहा कि कंपनी फूड सप्लाई न करने के पीछे बेकार के कारण बता रही है। ओखला में गफ्फार मंजिल इलाके में बाटला हाउस, ओखला विहार. जाकिर नगर, जाकिर बाग, जामिया नगर, अबुल फजल इनक्लेव और शाहीन बाग आते हैं जहां लगभग दो लाख आबादी निवास करती है जिसमें 70 प्रतिशत मुस्लिम हैं।

आयोग कंपनी के जवाब का इंतजार कर रहा है। आयोग कंपनी का जवाब जानना चाहता है। जब इस बारे में मैकडोनाल्ड से बात की गयी तो उनका कहना था कि ओखला और इसके आसपास के इलाकों में सप्लाई हमारे मानकों पर खरा न उतरने के कारण 2009-10 से बंद कर दी गयी है। हमें आयोग का नोटिस अभी नहीं मिला है। केवल ओखला ही एकमात्र एरिया नहीं है जहां आपूर्ति बंद की गयी है। उन्होंने कहा कि हम दिल्ली के ही तमाम इलाकों में सप्लाई नहीं देते हैं क्योंकि वह हमारे मानकों पर खरे नहीं उतरते हैं। हम ग्राहकों में कोई विभेद नहीं करते। कंपनी ने यह भी कहा कि ओखला में हम भोजन की आपूर्ति भोजन की सुरक्षा और गुणवत्ता के नाते भी नहीं करते हैं।

loading...
शेयर करें