उज्ज्वला योजना लाएगी गरीब महिलाओं के चेहरे पर खुशी

0

नई दिल्ली। मोदी सरकार गरीबों की सरकार है। ऐसा पीएम मोदी ने 26 मई 2014 को शपथ लेने के साथ ही कहा था। इस बात को मोदी सरकार ने सच साबित कर दिया है। मोदी सरकार ने उज्जवला योजना का फैसला लिया है। इस फैसले में गरीब महिलाओं को मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन मिलेंगे।

उज्जवला योजना

उज्जवला योजना: आठ हजार करोड़ की योजना

केंद्र की मोदी सरकार ने हर समय गरीब परिवार को सहायता देने का वायदा निभाते हुए कहा है कि गरीब महिलाओं को जल्‍द ही मिट्टी के चूल्‍हे से आजादी मिलेगी। मोदी सरकार ने कहा है कि गरीब पीरवार की महिला सदस्यों को मुफ्त रसोई गैस (एलपीजी) कनेक्शन मुहैया कराने के लिए गुरुवार को मंत्रिमंडल ने 8,000 करोड़ रुपये की योजना को मंजूरी दे दी है।

आयुर्वेद सम्मेलन

उज्जवला योजना को सफल बनाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाले मंत्रिमंडल ने तीन साल के लिए 8,000 के परिव्यय वाली प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को मंजूरी दे दी। यह जानकारी पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दी है। इस योजना का लक्ष्य है गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को युद्ध-स्तर पर एलपीजी कनेक्शन मुहैया कराना।

अरुण जेटली

वित्त मंत्री ने बजट में की थी घोषणा

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 2016-17 के बजट में यह कहते हुए योजना की घोषणा की थी कि रसोई गैस गरीबों को नहीं मिलती है। उन्होंने बजट भाषण में कहा था, भारत की महिलाओं को खाना बनाते समय धुएं से जूझना पड़ता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, रसोई में खुली आग के धुएं में एक घंटे बैठने का मतलब है 400 सिगरेट का धुआं सूंघना। इस समस्या के समाधान का समय आ गया है।

loading...
शेयर करें